नवंबर माह में इन 7 राशियों को नहीं करना पड़ेगा संघर्ष, मिलेगी अपार खुशियां

Monthly horoscope
Last Updated: शनिवार, 6 नवंबर 2021 (11:43 IST)
November Month 2021 Rashifal : नवंबर माह में 7 राशि वाले यदि समझदारी से आगे बढ़े तो उन्हें संघर्ष नहीं करना पड़ेगा। ग्रहों की‍ स्थिति कह रही है कि इस माह इन राशियों को खुशियां मिलेगी और सभी अटके काम पूर्ण होंगे। आओ जानते हैं कि कहीं आपकी राशि तो नहीं है इस लिस्ट में शामिल।


अनुसार इन 7 राशियों को मिलेगी खुशी : These 7 zodiac signs will get happiness for of November 2021

1. मेष ( Aries ) : बुध मेष राशि के तीसरे और छठे भाव का स्वामी और यह साझेदारी के सातवें घर में तुला राशि में गोचर करेगा, जिससे इस गोचर के दौरान आपको यात्रा सुख और परिवार का सुख मिलेगा। मेष राशि के लिए, सूर्य पंचम भाव का स्वामी है और अष्टम भाव में गोचर करेगा, जिसके चलते अचानक हानि और लाभ हो सकता है, परंतु यहां अकेला सूर्य सेहत को सही रखता है। हालांकि इस माह बृहस्पति का गोचर आपकी कुंडली के ग्यारहवें भाव में होगा, जिससे आय के स्रोत बढ़ेंगे। आपके लिए यह समय उत्तम है।
2. कर्क ( Cancer ) : कर्क राशि के लिए बुध बारहवें और तीसरे भाव का स्वामी होकर चतुर्थ भाव में गोचर करेगा। यह सुख का भाव है। इसके बाद बुध पंचम भाव में गोचर करेगा, जिसमें मिले-जुले परिणाम मिलेंगे। हालांकि आपकी राशि के लिए सूर्य दूसरे भाव का स्वामी होकर पंचम भाव में गोचर करेगा। तब यहां बुधादित्य योग बनेगा तो धन के लिए उत्तम माना जाता है। 20 नंवबर को गोचर अनुसार बृहस्पति अष्टम भाव में प्रवेश करेंगे। बृहस्पति बारहवें स्थान में भाग्येश होने के कारण भाग्य का साथ भले ही नहीं मिले लेकिन यह समय उत्तम रहेगा।
3. सिंह ( Leo ) : सिंह राशि के लिए बुध दूसरे और ग्यारहवें भाव का स्वामी होकर पराक्रम के तीसरे भाव में गोचर करेगा। इससे आपका व्यावसायिक पक्ष मजबूत होगा। फिर जब बुध इसी माह राशि बदलकर आपकी राशि के चतुर्थ भाव में गोचर करगे तब पारिवारित सुख और शांति में वृद्धि होगी। इस दौरान जब सूर्य राशि बदलेगा तो वह भी चतुर्थ भाव में गोचर करेगा। तब सुख और समृद्धि और भी बढ़ जाएगी। 20 नवंबर तक बृहस्पति छठे भाव में हैं। शुभग्रह का छठे भाव में होने से शुभफल कम हो जाता है। सप्तम में जाने से ही स्थिति में शुभ बदलाव होगा।
Virgo 740
4. कन्या ( Virgo ) : आपकी राशि में बुध पहले और दसवें भाव का स्वामी होकर परिवार, धन और वाणी के दूसरे भाव में गोचर करेगा। इसके बाद तीसरे भाव में गोचर करेगा। इसे परिवार में सुख और यात्रा का योग बनेगा। इसी दौरान आपकी राशि के सूर्य बारहवें घर का स्वामी होकर तीसरे घर में गोचर करेगा तब समय और भी अच्छा हो जाएगा। हालांकि 20 नवंबर को बृहस्पति का छठे भाव में गोचर सही नहीं है। इसीलिए सेहत और संबंधों पर ध्यान देना होगा।
5. धनु ( Sagittarius ) : धनु राशि के लिए बुध सप्तम और दशम भाव का स्वामी होकर धन, कामना और लाभ के एकादश भाव में गोचर करेगा। इसके बाद बुध व्यय और विदेशी लाभ के बारहवें भाव में गोचर करेगा। इसी दौरान धनु राशि के लिए सूर्य नवम भाव का स्वामी होकर व्यय, मोक्ष और विदेशी लाभ के 12वें भाव में गोचर करेगा। बृहस्पति के कुंभ राशि में आने से परिवार में सुख बढ़ेगा। बृहस्पति का दूसरे भाव में गोचर परिवार और धन की दृष्टि से शुभ है।
आपके लिए यह गोचर उत्तम रहेगा। परिवार में खुशियां होंगी।
6. मकर ( Capricorn ) : मकर राशि के लिए बुध छठे और नवम भाव का स्वामी होकर दशम भाव में गोचर करेगा और इसके बाद एकादश भाव में गोचर करगे। मकर राशि के जातकों के लिए यह समय फलदायी रहने वाला है। इसी दौरान सूर्य अष्टम भाव का स्वामी होकर आय, लाभ और इच्छा के ग्यारहवें भाव में गोचर करगे तो सकारात्मक लाभ देगा। 20 नवंबर के बाद बृहस्पति कुंभ राशि में होंगे तब आपको थोड़ा सतर्क रहने की जरूरत रहेगी।
7. कुंभ ( Aquarius ) : कुंभ राशि के लिए बुध पंचम और आठवें भाव का स्वामी है और भाग्य के नवम भाव में गोचर करेगा और इसके बाद दशम भाव में गोचर करेगा। आपके लिए अपने पेशेवर साम्राज्य का निर्माण करने के लिए यह गोचर भाग्य के द्वार खोलने वाला है। इसी दौरान सूर्य सप्तम भाव का स्वामी होकर दसवें भाव में गोचर करेगा तो और उत्तम फल की प्राप्ति होगी। 20 नवंबर के बाद सेहत में भी सुधार होगा और आर्थिक स्थिति में भी।



और भी पढ़ें :