सेंसेक्स में 22 अंक की बढ़त

मुंबई| वार्ता|
हमें फॉलो करें
FILE
तीसरी तिमाही में आर्थिक विकास दर में आई सुस्ती की खबरों ने बुधवार को 18 हजार के स्तर तक चढ़े बांबे की रफ्तार पर ब्रेक लगाया और यह शुरुआती तेजी खोकर मामूली बढ़त पर सिमट गया।


बाम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 18 हजार के स्तर को लांघने के बाद महज 22 अंक उपर 17752.68 पर और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 10 अंक उपर 5385.20 अंक पर बंद हुआ।

ऊंची ब्याज दर और कच्चे माल की लागत बढ़ने से विनिर्माण और खनन क्षेत्र के निराशाजनक प्रदर्शन की वजह से देश का सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) की रफ्तार चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में पिछले साल की इसी अवधि के 8.3 प्रतिशत के मुकाबले गिरकर तीन साल के न्यूनतम स्तर 6.1 प्रतिशत रह गई। बाजार धारणा पर इस खबर का विपरीत असर पड़ा।

सीजी (एफएमसीजी) बैकिंग और आटो वर्ग के शेयरों में बिकवाली ने जहां बाजार पर दबाव बनाया वहीं तेल एंव गैस (पीएसयू) धातु रियलटी और सीडी वर्ग में लिवाली ने बाजार की गिरावट को थामे रखा।


सेंसेक्स ने 188.81अंक की बढ़त के साथ 19919.93 अंक पर जोरदार शुरुआत की और एक समय 18001.35 अंक तक दौड़ लगाई और बाद में 17677.97अंक के नीचे तक जाकर आखिर में पिछले दिवस के 17731.12 अंक के मुकाबले 21.56 अंक उपर 17752.68 अंक पर बंद हुआ।
निफ्टी भी 54 हजार के स्तर को पार करता हुआ करीब 50 अकं की तेजी के साथ 5424.95 अंक पर खुल। बीच में यह 5458.80 अंक के उपर और 5352.25 अंक के नीचे के दायरे में रहकर आखिर में कल के 5375.50 अंक की तुलना में 9.70 अंक उपर 5385.20अंक पर रहा।

बीएसई का मिडकैप 69.40 अंक उपर 6386.82 अंक पर और स्मालकैप 42.06 अंक उपर 6859.97अंक पर रहा। बीएसई में कुल 3025 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ। इसमें से 1593 लाभ में और 1295 नुकसान में रहीं। बाकी 137 में कोई बदलाव नहीं हुआ।
यूरोपीय और एशियाई बाजारों में तेजी देखी गई। विदेशों से मिले समर्थन से घरेलू बाजार भी गिरावट की चपेट में आने से बचे रहे। सेंसेक्स में मजबूती पर टिकने वालों में ओएनजीसी 3.46 प्रतिशत लाभ के साथ सबसे आगे रही।

स्टरलाइट ने 2.98, टाटा स्टील ने 2.90, रिलायंस इंडस्ट्रीज ने 2.84, विप्रो ने 2.72, टाटा पावर ने 2.41, एयरटेल ने 1.70, बजाज ऑटो ने 1.60, हिंडाल्को ने 1.26, कोल इंडिया ने 0.79, सन फार्मा ने 0.78, एसबीआई ने 0.62, महिन्द्रा ने 0.49, एनटीपीसी ने 0.44, डीएलएफ ने 0.22, इंफोसिस ने 0.14 और गेल इंडिया ने 0.03 प्रतिशत का लाभ कमाया।
नुकसान उठाने वालों में एलएंडटी 2.91, एचडीएफसी बैंक 2.34, जिंदल स्टील 1.81, आईटीसी 1.35, हीरो मोटोकार्प 1.07, एचडीएफसी 1.02, मारुति 1.02, सिप्ला 0.69, टाटा मोटर्स 0.68, टीसीएस 0.54, आईसीआईसीआई बैंक 0.47, भेल 0.15 और हिन्दुस्तान यूनि 0.08 प्रतिशत घाटे में रही। (वार्ता)



और भी पढ़ें :