यह है दुनिया के खास 12 धर्म

WD|
WD
दुनियमेधर्मों की संख्या यूतो लगभग 300 से ज्यादा होगी, लेकिन व्यापक रूप से पांच धर्म ही प्रचलित हैं हिन्दू, जैन, बौद्ध, ईसाई, इस्लाम और सिख। इसके अलावा भी कई और धर्म भी अपना अस्तित्व बनाए रखे हुए हैं तो कुछ अपना अस्तित्व खो चुके हैं। आओ जानते हैं कि वे कौन से धर्म हैं।


1.हिन्दू धर्म : हिंदू और धर्म की उत्पत्ति पूर्व आर्यों की अवधारणा में है जो 4500 ईपू. (आज से 6500 वर्ष पूर्व) मध्य एशिया से हिमालय तक फैले थे। विद्वानों ने वेदों के रचनाकाल की शुरुआत 4500 ईपू से मानी है। इस मान से लिखित रूप में आज से 6508 वर्ष पूर्व पुराने हैं वेद। ऋग्वेद को संसार की सबसे प्राचीन और प्रथम पुस्तक माना है। इसी पुस्तक पर आधारित है हिंदू धर्म।
हिन्दू सनातन धर्म को जानने के लिए आगे क्लिक करें...हिन्दू सनातन धर्म


2.जैन धर्म : दुनिया के सबसे जैन धर्म को श्रमणों का धर्म कहा जाता है। वेदों में प्रथम तीर्थंकर ऋषभनाथ का उल्लेख मिलता है। माना जाता है कि वैदिक साहित्य में जिन यतियों और व्रात्यों का उल्लेख मिलता है वे ब्राह्मण परम्परा के न होकर श्रमण परम्परा के ही थे। मनुस्मृति में लिच्छवि, नाथ, मल्ल आदि क्षत्रियों को व्रात्यों में गिना है।

जैन धर्म को विस्तार से जानने के लिए आगे क्लिक करें...जानिए जैन धर्म को


3.यहूदी धर्म : आज से करीब 4000 साल पुराना यहूदी धर्म वर्तमान में इसराइल का राजधर्म है। दुनिया के प्राचीन धर्मों में से एक यहूदी धर्म से ही ईसाई और इस्लाम धर्म की उत्पत्ति हुई है। यहूदी एकेश्वरवाद में विश्वास करते हैं। मूर्ति पूजा को इस धर्म में पाप समझा जाता है।
यहूदी धर्म के संबंध में ज्यादा जानने के लिए आगे क्लिक करें..जानिए यहूदी धर्म को


4.धर्म : पेगन धर्म को मानने वालों को जर्मन के हिथ मूल का माना जाता है, लेकिन यह रोम, अरब और अन्य इलाकों में भी बहुतायत में थे। हालांकि इसका विस्तार यूरोप में ही ज्यादा था। एक मान्यता अनुसार यह अरब के मुशरिकों के धर्म की तरह था और इसका प्रचार-प्रसार अरब में भी काफी फैल चुका था। यह धर्म ईसाई धर्म के पूर्व अस्तित्व में था।
पेगन धर्म के बारे में और जानने के लिए आगे क्लिक करे...पेगन धर्म को जानें


5.वूडू धर्म : वूडू...इसे आप कोई भी नाम दे सकते हैं क्योंकि यह ‍दुनिया भर की आदिम जातियों, आदिवासियों का प्रारंभिक धर्म रहा है। हर देश में इसका नाम और थोड़े बहुत फेरबदल के साथ तरीका अलग हो सकता है, लेकिन यह है झाड़-फूंक, जादू-टोने, काल्पनिक देवता और कबीले की प्राचीन परंपरा का धर्म।
वूडू धर्म को विस्तार से जानने के लिए आगे क्लिक करे..जादूगरों का धर्म वूडू....


6.पारसी धर्म : प्राचीन फारस (आज का ईरान) जब पूर्वी यूरोप से मध्य एशिया तक फैला एक विशाल साम्राज्य था, तब पैगंबर जरथुस्त्र ने एक ईश्वरवाद का संदेश देते हुए पारसी धर्म की नींव रखी।
पारसी धर्म के संबंध में जानने के लिए आगे क्लिक करें... पारसी धर्म का सार


इसे जरूर पढ़ें...आतिश बेहराम

7.धर्म : जेन (zen) को झेन भी कहा जाता है। इसका शाब्दिक अर्थ 'ध्यान' माना जाता है। यह सम्प्रदाय जापान के सेमुराई वर्ग का धर्म है। सेमुराई समाज यौद्धाओं का समाज है। इसे दुनिया की सर्वाधिक बहादुर कौम माना जाता था। जेन का विकास चीन में लगभग 500 ईस्वी में हुआ। चीन से यह 1200 ईस्वी में जापान...
जेन धर्म के बारे में विस्तार से जानने के लिए आगे क्लिक करें...जानें जेन धर्म को


8.बौद्ध धर्म : ईसाई और इस्लाम धर्म से पूर्व बौद्ध धर्म की उत्पत्ति हुई थी। उक्त दोनों धर्म के बाद यह दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा धर्म है। इस धर्म को मानने वाले ज्यादातर चीन, जापान, कोरिया, थाईलैंड, कंबोडिया, श्रीलंका, नेपाल, भूटान और भारत आदि देशों में रहते हैं।
बौद्ध धर्म को विस्तार से जानने के लिए क्लिक करें...जानिए बौद्ध धर्म को

9.शिंतो धर्म : जापान के शिंतो धर्म की ज्यादातर बातें बौद्ध धर्म से ली गई थी फिर भी इस धर्म ने अपनी एक अलग पहचान कायम की थी। इस धर्म की मान्यता थी कि जापान का राज परिवार सूर्य देवी अमातिरासु ओमिकामी से उत्पन्न हुआ है

शिंतो धर्म के बारे में और जानने के लिए आगे क्लिक करें... शिंतो धर्म


10.ईसाई धर्म : आज से 2 हजार वर्ष पूर्व ईसाई धर्म की उत्पत्ति हुई थी। इस धर्म के संस्थापक है ईसा मसीह। ईसा मसीह का जीवन आज तक विवाद का विषय रहा है। क्या है उनके जीवन की सच्चाई या सच में ही उनका जीवन वैसा ही रहा जैसा कि बाइबिल में बताया जाता है या कि कुछ और। आओ सत्य को जानने का प्रयास करें।
ईसाई धर्म को विस्तार से जानने के लिए क्लिक करें...जानिए ईसाई धर्म को


इसे भी जरूर पढ़े...ईसा मसीह का भारत भ्रमण


11.इस्लाम धर्म : आज से 14सौं साल पहले इस्लाम धर्म की उत्पत्ति हज. मुहम्मद अलै. ने की थीं। अल्लाह के हुक्म से हजरत मुहम्मद सल्ल. ने ही इस्लाम धर्म को लोगों तक पहुंचाया है। आप हजरत सल्ल. इस्लाम के आखिरी नबी हैं, आप के बाद अब कायामत तक कोई नबी नहीं आने वाला।
इस्लाम धर्म के बारे में जानने के लिए आगे क्लिक करें....सलाम आप पर ताजदारे मदीना...

12.सिख धर्म : सिख धर्म के दस गुरुओं की कड़ी में प्रथम हैं गुरु नानक। आज से 600 वर्ष पूर्व हिन्दू धर्म की रक्षा के लिए सिख धर्म की उत्पत्ति हुई थी। इस धर्म के व्यवस्थित रूप दिया गुरु गोविंद सिंह जी ने।
सिख धर्म के संबंध में जानने के लिए आगे क्लिक करें...सिख धर्म के संस्थापक

इसे भी पढ़े...धर्म योद्धा गुरु गोबिंदसिंह



और भी पढ़ें :