मोहर्रम पर ताजियों की जियारत

5 जनवरी को मनेगी मेहँदी की रात

दसवीं तारीख (8 जनवरी) को योमे आशुरा के दिन ताजिया कर्बला के लिए रवाना होगा। कहा जाता है कि महाराजा यशवंतराव होलकर ने 150 साल पहले ताजियों के समक्ष मन्नाते माँगी थी, तभी से यहाँ सरकारी ताजिया परंपरानुसार बनाया जा रहा है।



और भी पढ़ें :