कंडोम की खपत बढ़ाने के लिए नुक्कड़ नाटक

रायपुर (भाषा)| भाषा| Last Updated: सोमवार, 12 मार्च 2018 (16:31 IST)
हमें फॉलो करें
छत्तीसगढ़ में कंडोम की खपत बढ़ाने के लिए अब नुक्कड़ नाटकों और पारदर्शी जार की सहायता ली जाएगी।
आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि एचआईवी एड्स जैसे रोगों के खतरे से बचाने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने कंडोम के उपयोग को बढ़ावा देने के लिए इसका सामाजिक विपणन प्रारंभ कर दिया है। इसके लिए पीएसआई संस्था का चयन किया गया है।

अधिकारियों ने बताया कि छत्तीसगढ़ में 6500 केंद्रों पर कंडोम देकर इसकी उपलब्धता बढ़ाने और इसकी बिक्री को 17 लाख तक पहुँचाने का लक्ष्य रखा गया है।

उन्होंने बताया कि संस्था द्वारा शहरी और ग्रामीण दोनों क्षेत्रों में खुले बिक्री केंद्रों पर वितरण टीम द्वारा कंडोम उपलब्ध कराकर इसे लोगों की पहुँच में लाया जाएगा।

अधिकारियों ने बताया कि माँग पैदा करने के लिए कस्बों में नुक्कड़ नाटक द्वारा लोगों में इसका उपयोग बढ़ाने के लिए प्रचार किया जाएगा। गाँवों में खुले विक्रेताओं को आकर्षित करने के लिए केनवास बैग और पारदर्शी जार वितरित किए जाएंगे।

अधिकारियों ने बताया कि राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन द्वारा 14 राज्यों में कंडोम के प्रचार-प्रसार को बढ़ाने के लिए संस्थाओं को कार्य सौंपा गया है। पीएसआई द्वारा राजस्थान, मध्यप्रदेश और उड़ीसा में भी कार्य किया जा रहा है।

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के मुताबिक छत्तीसगढ़ में लगभग दो हजार आठ सौ लोग एचआईवी पाजिटिव हैं तथा इनमें से चार सौ से ज्यादा एड्स के मरीज हैं, वहीं वर्ष 2002 से अब तक 18 लोगों की इस बीमारी के कारण मृत्यु हुई है।

अधिकारियों ने बताया कि राज्य के दूरदराज बस्तर और सरगुजा क्षेत्र में एचआईवी प्रभावित मरीजों की संख्या ज्यादा है।



और भी पढ़ें :