बच्चन-सचिन बेरोजगार, मिलता है मनरेगा का लाभ!

FILE
के संयोजक यातिश नाइक ने कहा कि 100 रुपए प्रतिदिन के हिसाब से 150 दिनों की मजदूरी की रकम जिन लाभार्थियों को मिली उनमें अलग-अलग क्षेत्रों की बड़ी हस्तियों के नाम शामिल हैं।

मनरेगा के लाभार्थियों की यह सूची चिम्बेल इलाके की है। इस संगठन ने राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी से गुहार लगाई है कि वह संबंधित अधिकारियों से इस घोटाले की जांच करने के लिए कहें। जीपीएम के लोगों ने आज गोवा के राज्यपाल बीवी वानचू से मुलाकात कर इस मामले में दखल की मांग की।

पणजी| भाषा| पुनः संशोधित शनिवार, 26 अप्रैल 2014 (20:12 IST)
हमें फॉलो करें
इस सूची में सचिन की पत्नी और उनके दो बच्चों के भी नाम हैं। यही नहीं इसमें के पूरे परिवार और यहां तक कि उनकी दिवंगत मां तेजी का नाम भी मनरेगा के लाभार्थियों की इस सूची में शामिल है। (भाषा)



और भी पढ़ें :