वाजपेयी-मोदी के 'ड्रीम प्रोजेक्ट' से मेनका नाराज

पीलीभीत| वार्ता| पुनः संशोधित गुरुवार, 15 मई 2014 (08:28 IST)
FILE
पीलीभीत। भारतीय जनता पार्टी पार्टी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी की नदियों को जोड़ने की योजना को उन्हीं की पार्टी की वरिष्ठ नेता और सांसद मेनका गांधी ने खतरनाक और बकवास करार दिया है।


मेनका गांधी ने यहां एक स्वागत समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि नदियों को जोड़ने की महत्वाकांक्षी योजना श्री अटल बिहारी वाजपेयी के कार्यकाल में बनी थी और उन्होंने ही इसे क्रियान्वित होने से रोका था। समारोह में जब एक बुजुर्ग ने गोमती को शारदा नदी से जोड़ने का सुझाव दिया तो मेनका गांधी ने कहा कि यह अत्यंत खतरनाक है।

मोदी अपनी चुनावी रैलियों में देश को बाढ़ और सूखे से निजात दिलाने के लिए नदियों को आपस में जोड़ने की आवश्यकता पर जोर देते रहे हैं। मेनका ने कहा कि मैंने ही वाजपेयी को इस बकवास योजना को लागू करने से रोका था। इस तरह की योजनाओं को बकवास के अलावा कुछ नहीं कहा जा सकता।

उन्होंने कहा कि दुनिया में इससे बुरी कोई योजना नहीं हो सकती। हर नदी की अपनी एक अलग विशेषता होती है। उनका पानी उसमें रहने वाली मछलियां अलग अलग होती हैं। अगर दो नदियों को जोड़ा जाएगा तो दोनों नदियां खत्म हो जाएंगी। इसमें किसी मुगालते में नहीं रहना चाहिए।


उन्होंने कहा कि नहरें बनाई जा सकती हैं और उन्हें बराबर साफ किया जा सकता है लेकिन दो नदियों को जोडना अत्यंत खतरनाक है। उन्होंने यह भी सवाल किया कि इन योजनाओं के लिए जमीन कहां से आएगी। इसके लिये दस से पंद्रह लाख एकड़ जमीन की जरूरत होगी वह कहां से आएगी। (वार्ता)



और भी पढ़ें :