शैक्षिक विशेषज्ञों का रिटायरमेंट 65 में

नई दिल्ली (भाषा)| भाषा|
हमें फॉलो करें
देश में मेडिकल स्टाफ की कमी दूर करने के लिए सरकार ने केंद्रीय स्वास्थ्य सेवाओं में शैक्षिक विशेषज्ञों के रिटायरमेंट की आयु 62 साल से बढ़ाकर 65 साल कर दी है।


प्रधानमंत्री मनमोहनसिंह की अध्यक्षता में हुई केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में यह महत्वपूर्ण फैसला किया गया। बैठक के बाद सूचना प्रसारण मंत्री प्रियरंजन दासमुंशी ने यहाँ बताया कि शैक्षिक गतिविधियों में संलग्न विशेषज्ञों के मामले में यह आयु बढ़ायी गई है न कि प्रशासनिक पदों पर मौजूद लोगों के लिए।
प्रशासनिक पदों पर मौजूद केंद्रीय स्वास्थ्य सेवाओं के अधिकारियों के पास शैक्षिक पदों पर नियुक्ति पाने का विकल्प होगा, बशर्ते वे 65 साल तक सेवा करना चाहते हैं। दासमुंशी ने बताया रिटायरमेंट की आयु में बढ़ोतरी का कोई वित्तीय परिणाम राजकोष पर नहीं होगा।




और भी पढ़ें :