प्रधानमंत्री ने मकानों का किया मुआयना

हलीगाँव, असम| भाषा| पुनः संशोधित शनिवार, 19 फ़रवरी 2011 (16:48 IST)
हमें फॉलो करें
ने यहाँ एक विशेष योजना के तहत बनाए जा रहे इंदिरा आवास योजना के मकानों का शनिवार को मुआयना किया और इसके लाभान्वितों से बातचीत की।


प्रधानमंत्री राज्य के कामरूप (ग्रामीण) जिले में रामपुर ब्लॉक के हलीगाँव ग्राम में कड़ी सुरक्षा के बीच पहुँचे। यहाँ 46 मकान बनाए जाने के लिए ‘स्पेशल इनिशएटिव ऑफ मल्टी सेक्टरल डेवलपमेंट प्रोगाम’ (पीएमएसआईएमडीपी) के तहत 38500 रुपए आबंटित किए गए हैं।

गौरतलब है कि सात मकानों का निर्माण कार्य पूरा हो गया है। प्रधानमंत्री दिहाड़ी मजदूरी करने वाले वाजिद अली के घर गए और उससे पूछा कि वह आजीविका चलाने के लिए क्या काम करता है तथा क्या उसके बच्चे पढ़ाई कर रहे हैं?

अली ने जवाब दिया कि वह एक दिहाड़ी मजदूर है और उसके बच्चे स्कूल एवं कॉलेज जा रहे हैं।


प्रधानमंत्री ने इस बात की सराहना की कि बच्चे शिक्षा हासिल कर रहे हैं। उन्होंने अली की सबसे बड़ी बेटी मुफिदा बेगम (17) से उसकी शिक्षा के बारे में पूछताछ की। मुफिदा ने बताया कि वह मिर्जा स्थित डीके कॉलेज की छात्रा है।
प्रधानमंत्री ने पूछा कि उसके पसंदीदा विषय क्या हैं, उसने जवाब में कहा कि दर्शनशास्त्र एवं राजनीति विज्ञान।

यह पूछे जाने पर कि क्या वह सरकार से मिल रहे मकान को लेकर खुश है, उसने मुस्कुराते हुए कहा कि परिवार के सभी सदस्य इसे लेकर खुश हैं।

प्रधानमंत्री को ग्रामीणों ने एक पारंपरिक फुलम 'गमसा’ और फूलों का गुलदस्ता भेंट किया। इसके बाद प्रधानमंत्री जोरहाट के लिए रवाना हो गए, जहाँ वह नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन (एनआईडी) की आधारशिला रखेंगे। (भाषा)



और भी पढ़ें :