भाजपा का चुनावी घोषणा-पत्र जारी

भोपाल (वार्ता)| वार्ता|
मध्यप्रदेश में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी ने विधानसभा चुनाव के लिए रविवार को अपना घोषणा-पत्र जारी कर दिया। पार्टी ने किसान और गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वालों को खासी तवज्जो देते हुए विकास को घोषणा-पत्र का आधार बनाया है।

जन संकल्प नामक घोषणा-पत्र भाजपा के पूर्व अध्यक्ष वेंकैया नायडू, पार्टी महासचिव एवं प्रदेश प्रभारी अनंतकुमार और पार्टी महासचिव थावरचंद गेहलोत की मौजूदगी में जारी हुआ।

मुख्यमंत्री ने कहा गाँवों और नगरों में 24 घंटे बिजली भी मुहैया करायी जाएगी। चौहान ने सड़क निर्माण, स्कूल शिक्षा के विकास, कृषि क्षेत्र, बिजली, खेल एवं युवा कल्याण, अनुसूचित जनजाति, उच्च शिक्षा, जल संसाधन और नर्मदा घाटी विकास के संबंध में अपनी आगामी सोच का खाका पेश करते हुए कहा कि भाजपा ने पाँच वर्षों के शासनकाल में इस राज्य को बीमारू की श्रेणी से निकालकर विकासशील की श्रेणी में ला दिया है।
उन्होंने कहा अब अगले पाँच वर्ष और काम करने का मौका मिलने पर इस राज्य को देश का विकसित राज्य बना दिया जाएगा। चौहान ने दावा किया कि वर्ष 2003 में पार्टी की ओर से जारी घोषणा-पत्र में शामिल वादों में 90 प्रतिशत को पूर्ण किया जा चुका है। शेष पर अमल के लिए प्रक्रिया चल रही है।

चौहान ने कहा राज्य के सभी गाँवों और नगरों के प्रत्येक घर में फीडर सेपरेशन के जरिए 24 घंटे बिजली मुहैया करायी जाएगी। हालाँकि उन्होंने माना कि कार्य में लगभग तीन वर्ष लगेंगे। अगले पाँच वर्षों में 5818 मेगावाट बिजली उत्पादन किया जाएगा। विद्युत पारेषण और वितरण व्यवस्था दुरुस्त करने के लिए 16 हजार करोड रुपए व्यय किए जाएँगे।
मुख्यमंत्री ने दावा किया कि गाँवों में फिलहाल एक दिन में 12 घंटे बिजली मुहैया करायी जा रही है। पाँच सालों में 3150 मेगावाट अतिरिक्त बिजली उत्पादन क्षमता बढ़ाई गई।

क्या कहता है घोषणा-पत्र : राज्य के सभी संभाग मुख्यालयों को आपस में फोर-लेन सड़क मार्ग बनाकर जोड़ा जाएगा। सभी जिलों को टू-लेन सड़क मार्ग से और सभी विकासखंडों को पक्के सड़क मार्ग से जोड़ा जाएगा।
महिलाओं और बच्चों के लिए महिला ड्रायवर, कंडक्टर युक्त विशेष सार्वजनिक यातायात सुविधा विकसित की जाएगी।

बीपीएल कार्डधारकों को दो रुपए प्रति किलो की दर से 25 किलो तक गेंहू और 25 पैसे प्रति किलो की दर से नमक दिया जाएगा।



और भी पढ़ें :