एक जेल में नहीं रहेंगे सिमी के ओहदेदार

इंदौर (भाषा)| भाषा| पुनः संशोधित शुक्रवार, 8 अगस्त 2008 (16:46 IST)
इंदौर के सेंट्रल जेल में बंद सिमी के आला ओहदेदारों को मध्यप्रदेश के अलग-अलग जेलों में भेजने के आदेश जारी किए गए हैं।


माना जा रहा है कि खुफिया एजेंसी की सलाह पर सतर्कता बरतते हुए यह कदम उठाया गया है, जिसके मुताबिक मौजूदा हालात में प्रतिबंधित संगठन के खूँखार ओहदेदारों को एक जगह रखना खतरे से खाली नहीं है।

उच्च पदस्थ सूत्रों ने कहा प्रदेश के जेल विभाग ने सेंट्रल जेल प्रशासन से कहा है कि व सिमी ओहदेदारों को प्रदेश के रीवा, सीधी, सतना, शहडोल, नरसिंहगढ़, छिंदवाड़ा, होशंगाबाद, दतिया और टीकमगढ़ की जेलों में भेजने की तैयारी करे।
सूत्रों के मुताबिक सेंट्रल जेल में फिलहाल सिमी से जुड़े 19 लोग बंद हैं। इनमें सिमी सरगना नागौरी समेत संगठन के नौ ओहदेदार भी शामिल हैं, जबकि शेष चार ओहदेदार को पुराने मामलों में पेशी के लिए अदालती आदेश के आधार पर पिछले दिनों कर्नाटक भेजा गया है।

सूत्रों ने कहा कि सिमी के इन तेरह आला ओहदेदारों को इंदौर से 27 मार्च को गिरफ्तार किया गया था। पुलिस हिरासत के दौरान इनसे लंबी पूछताछ की गयी। बाद में अदालत ने इन्हें न्यायिक हिरासत के तहत शहर के सेन्ट्रल जेल भेज दिया गया।
सूत्रों के मुताबिक सेन्ट्रल जेल में सिमी ओहदेदारों की मौजूदगी के मद्देनजर सतर्कता और सुरक्षा के तगड़े इंतजाम किए गए हैं, जो क्षमता से करीब तीन गुना ज्यादा कैदियों का बोझ ढो रहा है। गौरतलब है कि बेंगलुरु और अहमदाबाद के हालिया आतंकी धमाकों में शक की सुई सिमी की तरफ घूमी हुई है।



और भी पढ़ें :