प्रसिद्धी के लिए दी विस्फोट की धमकी

गुना (भाषा)| भाषा| पुनः संशोधित बुधवार, 6 अगस्त 2008 (23:40 IST)
उज्जैन स्थित महाकाल मंदिर को बम से उड़ाने की धमकी देने वाला टिल्लू उर्फ सेवकराम कुशवाह (18) दसवीं कक्षा का छात्र है और रातों रात प्रसिद्धी हासिल करने की चाह में वह पुलिस की गिरफ्त में पहुँच गया।


सिटी कोतवाली पुलिस थाना प्रभारी एमपी शर्मा ने बताया टिल्लू पढ़ाई-लिखाई में फिसड्डी है। दसवीं कक्षा में भी वह दो बार फेल हो चुका है। उसे आज यहाँ पुलिस ने गिरफ्तार कर उज्जैन पुलिस को सौंप दिया है।

पुलिस को दिए बयान में टिल्लू ने कहा अहमदाबाद बम धमाकों की खबर के बाद उसने सोचा कि क्यों न कुछ ऐसा किया जाए, जिससे सनसनी भी हो और नाम भी हो। उसने अपने मित्र पवन दोहरे के मोबाइल से सिम निकाली और अपने सेलफोन में लगाकर जितने भी नंबर डायल किए, उनमें से अधिकांश भोपाल और उज्जैन में लगे।
टिल्लू ने पुलिस को दिए बयान में कहा कि काल रिसीव करने वालों को वह उलटी सीधी धमकियाँ देने लगा, लेकिन उज्जैन के राजू मीणा ने महाकाल मंदिर बमों से उड़ाने की धमकी की सूचना पुलिस को दे दी और उज्जैन पुलिस की पहल पर गुना पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया।

उसने अपना अपराध कबूल कर लिया है। उल्लेखनीय है कि उज्जैन निवासी राजू मीणा ने मंगलवार रात छिमानगंज पुलिस थाने में उसके सेल फोन पर महाकाल मंदिर उड़ाने की धमकी संबंधी काल की जानकारी दी थी। मीणा ने जब उससे पहचान पूछी तो उसने अपना नाम अमर और फिर अमजद खाँ बताया था। पुलिस ने जब उक्त नंबर की तलाश की तो वह गुना निवासी किसी टिल्लू का निकला।



और भी पढ़ें :