कर्नाटक, गुजरात निवेश के लिए ‘आदर्श राज्य’

वॉशिंगटन| भाषा|
अमेरिकी व्यावसायिक जगत की प्रमुख शख्सियत ने कहा है कि भारत के गुजरात और राज्य सक्षम और पारदर्शी सरकार तथा प्रगतिशील नेतृत्व के ऐसे ‘आदर्श मॉडल’ है जो आने वाले समय में निवेशकों को आकर्षित कर सकते हैं।

अमेरिका-भारत बिजनेस काउंसिल (यूएसआईबीसी) के अध्यक्ष रोन समर्स ने यहाँ कहा कि निवेश आकर्षित करने के मामले में सक्षम, पारदर्शी और प्रगतिशील नेतृत्व की बड़ी भूमिका होती है। भारत यात्रा शुरू करने से पूर्व इस बातचीत में उन्होंने कहा कि यही वजह है कि एस्सार, टोरेंट, रिलायंस, शेल, टाटा और दूसरी कंपनियाँ गुजरात में निवेश कर रही हैं।
समर्स ने कहा कि प्रभावशाली और सक्षम प्रशासन, बेहतर कारोबारी नीतियाँ, ज्ञान अधारित अधारभूत संरचना और उद्यमी संस्कृति गुजरात को भारत में एक प्रमुख कारोबारी स्थल बनाता है।

समर्स की भारत यात्रा आज से शुरू हो रही है। अपनी यात्रा के दौरान वह कर्नाटक और गुजरात जाएँगे और मुख्यमंत्रियों से मिलेंगे। समर्स गुजरात सरकार द्वारा आयोजित वाइब्रेंट गुजरात में भी भाग लेंगे।
समर्स ने कहा कि 2011 में यूएसआईबीसी इस तरह के अनुकरणीय नेतृत्व को प्रमुखता देगा, ताकि बेहतर प्रशासित राज्यों में निवेश आकर्षित हो और अन्य राज्य भी बेहतर कारोबारी महौल बना सकें। समर्स ने कहा कि यही वजह है कि बेंगलुरू को भारत का सिलिकॉन वैली कहा जाता है। (भाषा)



और भी पढ़ें :