उल्कापिंड से गायब हुए थे डायनासोर

लंदन| भाषा|
लगभग 41 वैज्ञानिकों के एक दल ने दावा किया है कि एक के धरती से टकराने के कारण पृथ्वी से गायब हो गए थे।

उनके अनुसार एक उल्कापिंड भूकंप और सुनामी लाने वाली गति से लगभग 20 गुणा ज्यादा गति से धरती से टकराया।

द टेलीग्राफ की रिपोर्ट के अनुसार इससे हुआ विध्वंस इतना जबरदस्त था कि इसने दुनिया के अधिकांश हिस्से को धूल के गुबार से भर दिया और इससे एक तरह से पूरे पौधे और जीव नष्ट हो गए।

मुख्य शोधकर्ता पीटर शुल्टे ने कहा कि सभी डाटा को एक साथ रखकर हमें पता चलता है कि एक विशालकाय उल्कापिंड धरती से टकराया, जो डायनासोरों के सामूहिक तौर पर गायब होने का मुख्य कारण था। रिपोर्ट साइंस जरनल में प्रकाशित हुई है। (भाषा)



और भी पढ़ें :