स्वाद और सुगंध का राजा पुदीना

पुदीना
WD|
PR
पुदीनकी दृष्टि से अत्यंत गुणकारी है।

इसे घर में किसी भी क्यारी में आसानी से उगाया जा सकता है।

पुदीने का गुण शीतल होता है।

लू लगने व सिर दर्द होने पर इसकी ठंडाई बनाकर पीने से आराम मिलता है।

मुँह के छाले या मसूड़े के दर्द में गर्म पानी में पुदीना मिलाकर कुल्ले करने से आराम मिलता है।
यह मुख दुर्गन्ध नाशक है।

जिस मौसम में ताजा पुदीना नहीं मिलता उन दिनों पुदीने के सूखे पत्ते या डंठल लाभकारी होते हैं।

पुदीना हैजे की कारगर दवा है।

Home remedies
ND
अर्क पुदीना(पिपरमिंट) के रूप में इसका उपयोग जी मिचलाना, अफारा, अतिसार,बवासीर में होता है।
शरीर को सुंदर बनाने के लिए पुदीने का उबटन प्रयोग में लिया जाता है।

ह्रदय की दुर्बलता, लो ब्लड प्रेशर में यह औषधि की तरह कार्य करता है।

पुदीने से बना पिपरमिंट वमन रोकने में काम आता है।



और भी पढ़ें :