शाहरुख-आमिर ने किया निर्माताओं का समर्थन

Aamir-Shahrukh
Girish SrivastavaWD

द यूनाइटेड प्रोड्यूसर्स एंड डिस्ट्रीब्यूटर्स एसोसिएशन फोरम के सदस्यों ने तब अपने आपको बेहद शक्तिशाली महसूस किया जब के दो सुपस्टार्स और ने उनकी ओर से मुंबई में एक प्रेस वार्ता को संबोधित किया। दोनों फिल्म निर्माता भी हैं और बॉलीवुड के अन्य निर्माताओं के दर्द से अच्छी तरह परिचित हैं।

गौरतलब है कि निर्माता-वितरक बनाम मालिकों के बीच लाभ की हिस्सेदारी को लेकर विवाद चल रहा है, जिसके चलते निर्माताओं ने फैसला किया है कि वे नई फिल्मों को मल्टीप्लैक्स में प्रदर्शित नहीं करेंगे।

क्या कहा आमिर ने?
आमिर ने स्पष्ट रूप से कहा कि निर्माताओं को शेयर में 50 प्रतिशत हिस्सा चाहिए और वे झुकने वाले नहीं हैं। यदि मल्टीप्लैक्स निर्माता बात नहीं मानते हैं तो वे सिंगल स्क्रीन सिनेमाघरों में फिल्में प्रदर्शित करेंगे क्योंकि कुछ वर्ष पहले फिल्में सिंगल स्क्रीन सिनेमाघरों में लगती थी और सुपरहिट भी होती थीं।

क्या कहा शाहरुख ने?
आमिर के विपरीत शाहरुख ने मजाकिया लहजे में बात की। उन्होंने कहा कि पूरा बॉलीवुड एक परिवार की तरह है और उनके बीच झगड़ा होना आम बात है। वे यहाँ पर मल्टीप्लैक्स वालों को धमकाने के लिए नहीं आए हैं। उनका मानना है कि यह विवाद बहुत जल्दी सुलझा लिया जाएगा।

दोस्तों की तरह पेश आए दोनों खान
समय ताम्रकर|
आमिर और शाहरुख मंच पर इस अंदाज में बैठे थे, मानो वे वर्षों पुराने दोस्त हो। एक दूसरे से वे लगातार बात कर रहे थे और ठहाके लगा रहे थे। दोनों के हावभाव ये बता रहे थे कि वे पुरानी बात भूल चुके हैं। शाहरुख से जब पूछा गया कि क्या वे आमिर के साथ फिल्म करेंगे, तो किंग खान ने कहा जब वे एक मंच साथ शेयर कर सकते हैं तो फिल्म क्यों नहीं?



और भी पढ़ें :