तकनीकी चौकसी

- राजीव गुप्ता
नीचे में कोई समर्थन स्तर बाकी नहीं
: 8701 पर स्थित सेंसेक्स की मुख्य प्रवृत्ति की ही है। 8799 का एक और महत्वपूर्ण स्तर भी ब्रेक हो चुका है। 10200 और 11900 के स्तर अभी भी प्रमुख प्रतिरोध हैं। नीचे की ओर कोई भी समर्थन बाकी नहीं है और गिरावट जारी रहने पर यह 8400, 8250 और 7950 तक भी आ सकता है। 10200 के ऊपर जाने पर ही इसमें स्थिरता की गुंजाईश दिखाई देगी।
बाजार को एक सकारात्मक खबर की जरूरत

इस समय दुनिया भर के शेयर बाजारों में एकतरफा गिरावट का दौर बना हुआ है। निवेशकों का विश्वास बुरी तरह से टूट चुका है। दुनिया के तमाम देशों की सरकारों द्वारा उठाए जा रहे कदम तुच्छ साबित हो रहे हैं। आने वाला सप्ताह अभी भी अनिश्चितता की ओर ही इशारा कर रहा है, परंतु एक भी सशक्त सकारात्मक खबर बाजार में काफी जान डाल सकती है।

एचडीआईएल : 137 पर स्थित अंश दबाव में बना हुआ है और गिरावट के चलते इसने 90 का न्यूनतम स्तर बनाया। गिरावट में आने से पहले इसने 1112 का उच्चतम स्तर बनाया था। अंश की मुख्य प्रवृत्ति अभी भी गिरावट की ही है। ऊपर में 159 का नजदीकी प्रतिरोध है और ऊपर यह 170 और 183 तक जा सकता है। 118 के नीचे जाने पर यह 105 और 182 तक जा सकता है।
प्राज इंड्स : 62 पर स्थित अंश दबाव में बना हुआ है और गिरावट के चलते इसने 61 का न्यूनतम स्तर बनाया। गिरावट में आने से पहले इसने 273 का उच्चतम स्तर बनाया था। अंश की मुख्य प्रवृत्ति अभी भी गिरावट की ही है। ऊपर से 88 का नजदीकी प्रतिरोध है। अंश में नए निवेश से परहेज करें।
रिलायंस इंफ्रा : 381 पर स्थित अंश दबाव में बना है और गिरावट के चलते इसने 371 का न्यूनतम स्तर बनाया। गिरावट में आने से पहले इसने 2631 का उच्चतम स्तर बनाया था। अंश की मुख्य प्रवृत्ति अभी भी गिरावट की ही है। ऊपर में 525 का नजदीकी प्रतिरोध है। निवेशक अंश में नए निवेश से परहेज करें।

एमआरपीएल : 36 पर स्थित अंश दबाव में बना हुआ है और गिरावट के चलते इसने 35 का न्यूनतम स्तर बनाया। गिरावट में आने से पहले इसने 149 का उच्चतम स्तर बनाया था। अंश की मुख्य प्रवृत्ति अभी भी गिरावट की ही है। ऊपर में 45 का नजदीकी प्रतिरोध है। निवेशक अंश में नए निवेश से परहेज करें।
कोटक महिन्द्रा बैंक : 297 पर स्थित अंश दबाव में बना हुआ है और गिरावट के चलते इसने 288 का न्यूनतम स्तर बनाया। गिरावट में आने से पहले इसने 1435 का उच्चतम स्तर बनाया था। अंश की मुख्य प्रवृत्ति अभी भी गिरावट की ही है। ऊपर में 447 का नजदीकी प्रतिरोध है। निवेशक अंश में नए निवेश से परहेज करें।

जैन इरिगेशन : 289 पर स्थित अंश दबाव में बना हुआ है और गिरावट के चलते इसने 245 का न्यूनतम स्तर बनाया। गिरावट में आने से पहले इसने 770 का उच्चतम स्तर बनाया था। अंश की मुख्य प्रवृत्ति अभी भी गिरावट की ही है। ऊपर में 309 का नजदीकी प्रतिरोध है। 275 के नीचे जाने पर यह 267 और 255 तक जा सकता है।
इंडिया इंफो लाइन : 40 पर स्थित अंश दबाव में बना हुआ है और गिरावट के चलते इसने 37 का न्यूनतम स्तर बनाया। गिरावट में आने से पहले इसने 1395 का उच्चतम स्तर बनाया था। अंश की मुख्य प्रवृत्ति अभी भी गिरावट की ही है। ऊपर में 60 का नजदीकी प्रतिरोध है। निवेशक अंश में नए निवेश से परहेज करें।

प्रकाशित लेख के विचार से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। उनमें दी गई सलाह या दिशा-निर्देश भी लेखकों के अपने हैं, उनके लिए वेबदुनिया उत्तरदायी नहीं है। निवेशकों से अनुरोध है कि वे सोच-समझकर निर्णय लें। - प्र.सं.



और भी पढ़ें :