Fact Check: सरकारी अस्पतालों में बांटे जा रहे मुफ्त मास्क पहनने से बेहोश हो रहे लोग? जानिए सच

Last Updated: शुक्रवार, 9 अप्रैल 2021 (11:49 IST)
देश में जिस रफ्तार से कोरोनावायरस के मामले बढ़ रहे हैं, उसी रफ्तार से फर्जी खबरें भी फैल रही हैं। ऐसे ही एक वायरल ऑडियो क्लिप में दावा किया जा रहा है कि सरकारी अस्पतालों में बांटे जा रहे पहनने से लोग हो रहे हैं और उन्हें में भर्ती किया जा रहा है।

क्या है वायरल ऑडियो क्लिप में -


ऑडियो में एक महिला यह कहती सुनाई दे रही है कि ‘बड़े हॉस्पिटल के डॉक्टर ने कहा है कि एक मीटिंग हुई है। इस मीटिंग में बताया गया है कि सरकारी और दूसरे अस्पतालों में सभी लोगों को मुफ्त मास्क बांटे जा रहे हैं। मगर वो मास्क लगाने के कुछ देर बाद ज्यादातर इंसान बेहोश होकर गिर जाएगा। उसकी तबीयत खराब होगी तो उनको कोरोना वार्ड में डाल दिया जाएगा।’ इस वायरल ऑडियो में अपील की गई है कि फ्री मास्क कोई भी न ले।

क्या है सच-


केन्द्र सरकार की पॉलिसी/स्कीम्स/विभाग/मंत्रालयों को लेकर गलत सूचना को फैलने से रोकने के लिए काम करने वाले PIB (PIB Fact Check) ने ट्वीट कर इस फेक ऑडियो क्लिप के बारे में लोगों को जागरुक किया है।



ऑडियो क्लिप शेयर करते हुए PIB फैक्ट चेक ने बताया कि “WhatsApp पर शेयर की जा रही इस ऑडियो क्लिप में फर्जी दावा किया जा रहा है कि सरकारी अस्पताल में बाँटे जा रहे मुफ्त मास्क से लोग बेहोश हो रहे हैं और उन्हें कोविड वार्ड में शिफ्ट किया जा रहा है”।



और भी पढ़ें :