क्या ये वाकई हैदराबाद गैंगरेप आरोपियों के एनकाउंटर की तस्वीर है... जानिए सच...

Last Updated: शुक्रवार, 6 दिसंबर 2019 (15:45 IST)
दिशा गैंगरेप और हत्या के चारों आरोपियों को आज सुबह पुलिस ने एनकाउंटर में मार गिराया। पुलिस के अनुसार, वे चारों आरोपियों को सीन रिक्रिएट करने के लिए मौके पर ले गई थी। इसी दौरान आरोपियों ने फरार होने का प्रयास किया, जिसके बाद पुलिस ने उन्हें मार गिराया। अब सोशल मीडिया पर एक तस्वीर वायरल हो रही, जिसे इस एनकाउंटर की तस्वीर बताया जा रहा है।
क्या है वायरल-

ट्विटर यूजर Nani ने इस तस्वीर को शेयर कर दिशा के आरोपियों को एनकाउंटर में मारने के लिए हैदराबाद पुलिस और मुख्यमंत्री को धन्यवाद दिया।
फेसबुक यूजर Sachin Singh ने भी तस्वीर शेयर कर लिखा- “हैदराबाद पुलिस का धन्यवाद। ग्राउंड लेवल की तस्वीर वो भी बॉडी सहित यकीन कर लीजिए की एनकाउंटर हो चुका है किसी भी प्रकार के संदेह न करे।”

हैदराबाद गैंगरेप आरोपियों के एनकाउंटर की तस्वीर है... जानिए सच..." width="740" />
कई अन्य यूजर्स ने भी ट्विटर और फेसबुक पर यह तस्वीर शेयर कर ऐसा दावा पेश किया है।
क्या है सच-

जब हमने वायरल तस्वीर को रिवर्स इमेज सर्च किया, तो पाया कि वायरल तस्वीर हैदराबाद की दिशा के आरोपियों के एनकाउंटर की नहीं है। बल्कि ये तस्वीर साल 2015 की है जब आंध्र प्रदेश पुलिस ने 20 चंदन तस्करों को एनकाउंटर में मार गिराया था।

रिवर्स इमेज सर्च के रिजल्ट में हमें Coastaldigest और The Hindu की रिपोर्ट मिलीं, जिसमें ये वायरल तस्वीर लगी थी। इन रिपोर्टों के मुताबिक, सेशाचलम जंगलों में लाल चंदन के पेड़ काटते हुए पकड़े जाने पर तमिलनाडु के 20 लकड़हारों को पुलिस ने एनकाउंटर में मार गिराया।
न्यूज एजेंसी ANI ने एनकाउंटर के स्थान की तस्वीरें ट्वीट की हैं। देखें-


वेबदुनिया की पड़ताल में पाया गया है कि जिस तस्वीर को हैदराबाद गैंगरेप और हत्या के आरोपियों के एनकाउंटर का बताकर शेयर किया जा रहा है वह असल में साल 2015 का है, जब चंदन तस्करों को आंध्र प्रेदश पुलिस ने मार गिराया था।



और भी पढ़ें :