उत्तराखंड में 70 सीटों के लिए कुल 750 उम्मीदवारों ने भरा नामांकन

एन. पांडेय| पुनः संशोधित शनिवार, 29 जनवरी 2022 (10:11 IST)
देहरादून। उत्तराखंड में चुनाव के लिए की तिथि समाप्त हो गई है। नामांकन के आखिरी दिन कई दिग्गजों ने अपनी मौजूदगी दर्ज कराई। कुल 750 उम्मीदवारों ने नामांकन कराए। निर्वाचन आयोग ने आधी रात के बाद कुल प्रत्याशियों की जो सूची जारी की उसमे आखिरी दिन 302 ने नामांकन किए।

कांग्रेस नेता और पूर्व सीएम हरीश रावत, नेता विपक्ष प्रीतम सिंह, गणेश गोदियाल, रंजीत रावत, तिलकराज बेहड़, उक्रांद से दिवाकर भट्ट, आप के कर्नल कोठियाल,सीएम पुष्कर सिंह धामी, भाजपा के मंत्री, समेत कई उम्मीदवार अपने अपने नामांकन दाखिल कर अब प्रचारके लिए जुट गए हैं। लगभग दो दर्जन से अधिक बागियों ने अपने दलों से टिकट नहीं मिलने पर निर्दलीय नामांकन करवाया है।

आगामी 31 जनवरी तक नाम वापस लेने की तारीख है उसके बाद ही असल तस्वीर सामने आएगी।
नामांकन के अंतिम दिन पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने लालकुआं विधानसभा सीट से नामांकन करा लिया है। हरदा हमारा आला दुबारा, के नारे लगाते हुए पूर्व कैबिनेट मंत्री यशपाल आर्य और पूर्व कैबिनेट मंत्री हरीश चंद्र दुर्गापाल सहित तमाम समर्थक भी उनके साथ इस मौके पर मौजूद रहे।

नामांकन के दौरान भारी संख्या में लोग हरीश रावत की एक झलक देखने को आतुर नजर आए।
नामांकन के अंतिम दिन आज लालकुआं विधानसभा सीट रणभूमि में बदल गई है। लालकुआं विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस ने पहले संध्या डालाकोटी को टिकट दिया था। लेकिन उसके बाद टिकट काट कर पूर्व सीएम हरीश रावत को दे दिया।

अब लालकुआं से पूर्व सीएम हरीश रावत के बाद संध्या डालाकोटी ने भी निर्दलीय नामांकन करा दिया है। जिससे लालकुआं सीट पर मुकाबला कड़ा होने की संभावनाएं भी बेहद बढ़ गई हैं।जब कांग्रेस ने लालकुआं से संध्या डालाकोटी को मैदान पर उतारा था तो पूर्व कैबिनेट मंत्री हरीश दुर्गापाल और हरेंद्र बोरा ने बगावती रुख अपना लिया था। अब संध्या डालाकोटी ने निर्दलीय चुनाव लड़ने का मन बना लिया है। उन्होंने तहसील पहुंचकर नामांकन भी दाखिल कर दिया है।
भाजपा उम्मीदवार मोहन सिंह बिष्ट ने भी लालकुवां से आज परचा भरा तो भाजपा से टिकट न मिलने से नाराज लालकुआं के नगरपालिका अध्यक्ष रहे पवन चौहान ने भी भाजपा छोड़ निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में पर्चा भर दिया।



और भी पढ़ें :