मोदीनगर में नाराज सफाईकर्मियों ने थाने को बनाया कचरा घर

हिमा अग्रवाल| पुनः संशोधित गुरुवार, 27 मई 2021 (18:58 IST)
गाजियाबाद। कोतवाली थाना गुरुवार को पीड़ितों की फरियाद सुनने की जगह कचरे के ढेर में तब्दील हो गया। आरोप है कि मोदी नगर थाने की ने गांधी मार्केट परिसर में खाना खा रहे नगर पालिका के सफाईकर्मी गौरव के साथ चेकिंग के नाम पर मारपीट कर दी थी।

मारपीट की सूचना पर नगर पालिका के सफाई कर्मचारी ने पुलिस चौकी में कूड़ा भर दिया और जमकर नारेबाजी करते हुए दिल्ली-मेरठ मार्ग पर जाम लगा दिया।
गुरुवार की दोपहर मोदीनगर में विजेंद्र नाम का सफाईकर्मी अपना काम खत्म करके गांधी मार्केट परिसर में खाना खा रहा था।

आरोप है कि वहां दो पुलिसकर्मी वहां पहुंचे और उन्होंने विजेन्द्र बिना कुछ कहे-सुने बिना डंडे बरसा दिए। नगर पालिका के कर्मचारी के साथ मारपीट की सूचना मिलते ही पीड़ित के साथी थाने पर पहुंचकर हंगामा करने लगे, उन्होंने कोतवाली थाने पर कूड़े की गाड़ियां खड़ी कर दी और जाम लगा दिया।

मोदीनगर में सफाईकर्मी की पिटाई सूचना आग की तरह फैल गई। इसके चलते बड़ी संख्या में सफाई कर्मचारी मोदी नगर बस स्टैंड के सामने कस्बा पुलिस चौकी पर पहुंच गए और उन्होंने पुलिस चौकी के सामने कूड़ा डाल दिया और दिल्ली-मेरठ मार्ग पर जाम लगा दिया।

घटना की जानकारी मिलते ही डिप्टी एसपी और थानाध्यक्ष और मौके पर पहुंच गए। उन्होंने सफाई कर्मचारियों को समझने का प्रयास किया, लेकिन सफाई कर्मचारी आरोपी पुलिसकर्मियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाने की मांग पर अड़े रहे। कड़ी मशक्कत के बाद अधिकारियों ने हंगामा कर रहे सफाई कर्मचारियों को शांत करवाया और आश्वासन दिया की जांच के उपरांत आरोपी पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई की जाएगी। समाचार लिखे जानेतक सफाईकर्मी मोदीनगर कोतवाली में डटे हुए थे।



और भी पढ़ें :