CM योगी ने कहा- दवा उद्योग की संभावनाओं को देखते एक सप्ताह में बनाएं नई पॉलिसी

अवनीश कुमार| पुनः संशोधित रविवार, 24 मई 2020 (11:00 IST)
लखनऊ। के में मुख्यमंत्री ने अधिकारियों के साथ बैठक की। इस दौरान को बढ़ावा देने की बात मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कही। इस मौके पर मौजूद अधिकारियों ने फार्मा, मेडिकल डिवाइस पार्क की स्थापना के संबंध में प्रेजेंटेशन दिया।
इसे देखने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक सप्ताह का समय अधिकारियों को देते हुए कहा कि नई नीति पर काम करें और विशेषज्ञों की सुझाव के आधार पर संशोधित प्रस्ताव शीघ्र ही प्रस्तुत करें। उन्होंने कहा कि दवा उद्योग, चिकित्सकीय उपकरण और हर्बल के क्षेत्र में असीम संभावनाएं हैं। इस पर हमें काम करना है।

बताते चलें कि करोना महामारी को लेकर अपने लखनऊ के सरकारी आवास पर अधिकारियों के साथ बैठक कर रहे थे। बैठक के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में फार्मा पार्क, मेडिकल डिवाइस पार्क तथा औषधीय पौधों के संबंध में नीतिगत प्रस्ताव शीघ्र प्रस्तुत किए जाने की बात अधिकारियों से कही।

उन्होंने कहा कि पूंजी निवेशकों और उद्यमियों को आकर्षित करने के लिए आवश्यकतानुसार पूर्व की नीतियों में संशोधन किए जाएं और इस संबंध में विशेषज्ञों के भी सुझाव प्राप्त किए जाएं। उन्होंने कहा कि राज्य में पर्याप्त मानव संसाधन व अवस्थापना सुविधाओं के साथ-साथ भूमि भी उपलब्ध है।

उन्होंने अधिकारियों को फार्मा तथा मेडिकल डिवाइस पार्क की स्थापना के लिए लैण्ड बैंक चिन्हित करने के लिए भी कहा। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड-19 तथा अन्य रोगों के दृष्टिगत दवाइयों एवं मेडिकल उपकरणों की मांग तेजी से बढ़ी है।

ऐसे में राज्य को फार्मा एवं मेडिकल डिवाइस पार्कों की स्थापना के लिए तेजी से तैयारी करनी होगी। साथ ही फार्मा आदि पार्कों की स्थापना से यूपी में रोजगार भी उपलब्ध होगा। इससे प्रदेश व देश की अर्थव्यवस्था को भी मजबूती मिलेगी। इस दौरान औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना, मुख्य सचिव आरके तिवारी व अन्य वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।



और भी पढ़ें :