नीरज चोपड़ा समेत सभी पदक विजेता खिलाड़ियों पर इनाम की ‘बरसात’, जानिए किसे मिला कितना इनाम

Last Updated: रविवार, 8 अगस्त 2021 (11:02 IST)
नई दिल्ली/चंडीगढ़। ओलंपिक में व्यक्तिगत स्पर्धा में देश के लिए दूसरा और ट्रैक-एंड-फील्ड में पहला स्वर्ण जीतकर नीरज चोपड़ा ने शनिवार को इतिहास रच दिया। भारत को एथलेटिक्स में पहला स्वर्ण पदक दिलाने वाले नीरज पर देश भर से पुरस्कारों की ‘बरसात’ हो रही है।

उन्हें अब तक कुल मिलाकर 10 करोड़ रुपए के नकद पुरस्कारों की घोषणा हो चुकी है।
हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने राज्य के खिलाड़ी चोपड़ा के लिए 6 करोड़ रुपए के इनाम की घोषणा की है। पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने भी चोपड़ा को 2 करोड़ रुपए का नकद इनाम देने की घोषणा की है। ओलंपिक में पदक विजेताओं और अन्य राज्यों के खिलाड़ियों के लिये भी पुरस्कारों की घोषणा की गई है।
भारतीय क्रिकेट बोर्ड (BCCI) और इंडियन प्रीमियर लीग फ्रेंचाइजी चेन्नई सुपर किंग्स ने भी चोपड़ा को एक-एक करोड़ रुपए का पुरस्कार देने की घोषणा की। बीसीसीआई ने अन्य पदक विजेता भारतीय खिलाड़ियों को भी नकद पुरस्कार देने की घोषणा की है।

खट्टर ने कहा कि चोपड़ा को पंचकुला में बनने वाले एथलेटिक्स के सेंटर फॉर एक्सीलेंस का प्रमुख बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि हमारी खेल नीति के तहत नीरज को 6 करोड़ रुपए का नकद पुरस्कार, क्लास वन की नौकरी और सस्ती दरों पर प्लॉट दिया जाएगा।
खट्टर ने घोषणा की कि पहलवान रवि दहिया और बजरंग पूनिया के सोनीपत और झज्जर जिले स्थित पैतृक गांवों में इंडोर कुश्ती स्टेडियम बनाया जाएगा। तोक्यो ओलंपिक में हरियाणा के पहलवान रवि दहिया ने रजत और बजरंग पूनिया ने कांस्य पदक जीता। प्रदेश सरकार की पदक नीति के तहत कांस्य पदक जीतने वाले पूनिया को ढाई करोड़ का नकद इनाम, सस्ती दर पर भूखंड और सरकारी नौकरी दी जाएगी।
रवि दहिया ओलंपिक में रजत पदक जीतने वाले दूसरे पहलवान हैं। उन्हें 4 करोड़ रुपए की इनामी राशि के अलावा, प्रथम श्रेणी की नौकरी और हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण का एक भूखंड सस्ती दर पर दिया जाएगा।

हरियाणा सरकार भारतीय महिला हॉकी टीम का हिस्सा रही प्रदेश की नौ खिलाड़ियों को भी 50-50 लाख का नकद इनाम देगी और ओलंपिक की किसी भी स्पर्धा में चौथे स्थान पर आने वाले राज्य के खिलाड़ी को भी इतनी ही रकम दी जाएगी।
अमरिंदर सिंह ने भी नीरज चोपड़ा की उपलब्धि की सराहना की और आधिकारिक बयान जारी करके उनके लिए 2 करोड़ रुपए के नकद पुरस्कार की घोषणा की। अमरिंदर ने कहा कि यह समूचे देशवासियों और पंजाबियों के लिए गर्व का मौका है। सेना में कार्यरत नीरज चोपड़ा के परिवार की जड़ें पंजाब में हैं।

बीसीसीआई के सचिव जय शाह ने ट्वीट कर यह घोषणा भी की कि रजत पदक विजेता मीराबाई चानु और रवि दहिया को भी 50-50 लाख रुपए क्रिकेट बोर्ड देगा। मीराबाई चानु ने भारत के लिए में वेटलिफ्टिंग में पहला पदक जीता था। रवि दहिया ओलंपिक में कुश्ती में सुशील कुमार (2012) के बाद रजत पदक जीतने वाली दूसरे पहलवान हैं।
कांस्य पदक विजेता पहलवान बजरंग पूनिया, बॉक्सर लवलीना बारगोहेन और बैडमिंटन खिलाड़ी पी वी सिंधु को भी 25-25 लाख रुपए दिए जाएंगे। देश के लिए हॉकी में 41 साल बाद ओलंपिक पदक जीतने वाली पुरुष हॉकी टीम को भी 1.25 करोड़ रुपए बोर्ड देगा।

कई निजी कंपनियों ने भी खिलाड़ियो के लिए इनाम और प्रोत्साहन की घोषणा की है। आईपीएल फ्रेंचाइजी चेन्नई सुपर किंग्स चोपड़ा को एक करोड़ का नकद इनाम देने के अलावा 8758 नंबर की एक विशेष जर्सी भी उनके सम्मान में जारी करेगी।
गुरुग्राम स्थित रियेल एस्टेट कंपनी एलान ग्रुप के अध्यक्ष राकेश कपूर ने नीरज चोपड़ा के लिए 25 लाख के इनाम की घोषणा की तो वहीं इंडिगो ने एक साल के लिए उन्हें असीमित मुफ्त यात्रा की पेशकश की है।

चोपड़ा हरियाणा के पानीपत जिले के खांद्रा गांव के रहने वाले हैं। अभिनव बिंद्रा ने इससे पहले भारत के लिए 2008 के बीजिंग ओलंपिक में भारत के लिए व्यक्तिगत स्पर्धा में पहली बार निशानेबाजी का स्वर्ण पदक जीता था।
मणिपुर सरकार ने मीराबाई चानु को एक करोड़ रुपए और सहायक पुलिस अधीक्षक (खेल) का नियुक्ति पत्र दिया था।

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने भारतीय महिला हॉकी टीम की सदस्य रहीं राज्य की वंदना कटारिया को 25 लाख रुपए के नकद पुरस्कार की घोषणा की जबकि झारखंड सरकार ने इसी टीम का हिस्सा रहीं अपने राज्य की दो खिलाड़ियों सलीमा टेटे और निक्की प्रधान को 50-50 लाख रुपए देने की घोषणा की है।
मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौदान ने भी पुरुष हॉकी टीम का हिस्सा रहे प्रदेश के दो खिलाड़ियों विवेक सागर और नीलाकांत शर्मा के लिए एक-एक करोड़ रुपए के इनाम की घोषणा की है।



और भी पढ़ें :