3 दिन पहले टोक्यो पहुंचे भारतीय निशानेबाज, बेसब्री से कर रहे हैं प्रैक्टिस का इंतजार

Last Updated: सोमवार, 19 जुलाई 2021 (16:49 IST)

टोक्यो:यूरोप से लंबी उड़ान की थकान से उबरने के बाद भारतीय आगामी ओलंपिक से पहले यहां अपने शुरूआती अभ्यास सत्र का इंतजार कर रहे हैं।भारतीय राष्ट्रीय राइफल संघ (एनआरएआई) ने कहा कि 15 खिलाड़ियों सहित निशानेबाजी दल हारुमी तट जिले के खेल गांव में पहुंचने के बाद सहज महसूस कर रहा है।
तीसरी बार ओलंपिक खेलों में भाग ले रहे अनुभवी राइफल निशानेबाज संजीव राजपूत ने बताया, ‘‘ राइफल टीम ने अभ्यास स्थल जाने के लिए सुबह 6.55 बजे के लिए बस बुक कर ली है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘ हम इस समय परिसर का निरीक्षण करेंगे।’’भारतीय निशानेबाज सोमवार को असका शूटिंग रेंज (निशानेबाजी परिसर) में अपने पहले अभ्यास सत्र में भाग लेंगे।

राष्ट्रीय राइफल कोच दीपाली देशपांडे ने कहा, ‘‘ टीम खेल गांव के माहौल में अच्छे से ढल गयी है। माहौल अच्छा है और हम लंबी यात्रा के बाद जरूरी आराम का लुत्फ उठा रहे हैं। हम सोमवार से अभ्यास शुरू करेंगे।’’
निशानेबाजों और सात सहयोगी सदस्यों ने अपने कमरे में पहुंचने के बाद खेल गांव का मुआयना किया, अपने उपहार लिये और सेल्फी पॉइंट्स देखने के साथ देश के अन्य खेलों के खिलाड़ियों से मिले। खिलाड़ियों ने अच्छे से आराम कर लंबी उड़ान की थकान मिटाई। एक कमरे में दो लोगों के रुकने का इंतजाम है।

निशानेबाजों ने यह भी कहा कि भोजन और अन्य सभी चीजों की अच्छी व्यवस्था है और अनिवार्य रूप से मास्क पहनने के अलावा, किसी भी खिलाड़ी के लिए गांव के अंदर आवाजाही पर कोई प्रतिबंध नहीं था।
पिस्टल कोच रौनक पंडित ने कहा, ‘‘ हर चीज का अच्छे से ख्याल रखा जा रहा है। भोजन और अन्य सुविधाएं अच्छी हैं। हम प्रोटोकॉल के साथ काफी सुरक्षित महसूस कर रहे हैं। भारत सरकार और आईओए (भारतीय ओलंपिक समिति) किसी भी मदद के लिए तैयार है।’’

भारतीय निशानेबाजों को पदक का प्रबल दावेदार माना जा रहा है। वे तैयारियों के सिलसिले में 11 मई को जगरेब रवाना हो गये थे। उन्होंने हालांकि हाल में ओसिएक में समाप्त हुए आईएसएसएफ विश्व कप में अनुकूल प्रदर्शन नहीं किया। भारतीय टीम ने एक स्वर्ण, एक रजत और दो कांस्य पदक जीते और वह 10वें स्थान पर रही थी।
महिला 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में विश्व की मौजूदा नंबर एलवेनिल वलारिवान टीम में चुनी गयी एकमात्र ऐसी एथलीट हैं जिन्होंने राष्ट्रीय टीम द्वारा हासिल 15 कोटा में से एक भी हासिल नहीं किया है। महिला 25 मीटर पिस्टल स्पर्धा की निशानेबाज महिलाओं की 10 मीटर एयर पिस्टल और 25 मीटर पिस्टल व्यक्तिगत स्पर्धाओं दोनों में हिस्सा लेंगी।
अंजुम मिश्रित एयर टीम राइफल टीम स्पर्धा में दीपक कुमार के साथ इस स्पर्धा में भारत की दूसरी टीम के रूप में हिस्सा लेंगी जबकि एलवेनिल और दिव्यांश इस स्पर्धा में पहली जोड़ी रहेंगे। अपूर्वी चंदेला केवल महिलाओं की 10 मीटर एयर राइफल व्यक्तिगत स्पर्धा में ही हिस्सा लेंगी।

तोक्यो खेलों में भारत के इस बार रिकार्ड 15 निशानेबाज शिरकत करेंगे। भारतीय टीम में आठ राइफल, पांच पिस्टल और दो स्कीट निशानेबाज हैं।(भाषा)



और भी पढ़ें :