1992 वनडे विश्वकप की यादें साझा कर PM इमरान खान ने भरा पाक टीम में जोश

पुनः संशोधित शनिवार, 23 अक्टूबर 2021 (16:46 IST)
हमें फॉलो करें
दुबई:के कप्तान ने शनिवार को बताया कि के शुरू होने से पहले पूर्व कप्तान और देश के मौजूदा प्रधानमंत्री ने टीम से बातचीत की थी।इमरान ने 1992 में अपनी पहली विश्व कप जीत के दौरान पाकिस्तान का नेतृत्व करने के अपने अनुभव टीम के साथ साझा किये।

बाबर ने चिर-प्रतिद्वंद्वी भारत के खिलाफ मैच की पूर्व संध्या पर कहा, ‘‘ यहां आने से पहले, हमारी मुलाकात हुई थी और उसमें उन्होंने (इमरान) अपने अनुभव साझा किये थे। उन्होंने 1992 के विश्व कप में अपनी मानसिकता के बारे में बताने के साथ खुद और टीम की बॉडी लैंग्वेज (भाव भंगिमा) के बारे में बताया।’’
पाकिस्तान के कप्तान से पूछा गया कि क्या भारत के खिलाफ सुपर 12 मैच से पहले प्रधानमंत्री ने कोई संदेश दिया था।पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के अध्यक्ष रमीज राजा ने खिलाड़ियों के साथ ऑनलाइन बैठक की और उन्हें टूर्नामेंट में अपना शत प्रतिशत देने की सलाह दी।

टी20 प्रारूप में 61 अतरराष्ट्रीय मैच खेलने वाले बाबर ने कहा, ‘‘ देखिए, अध्यक्ष ने हमसे कहा, ‘आप खुद को जितना शांत रखेंगे और चीजों को जितना सरल रखेंगे, उतना अच्छा होगा। बाहर की चीजें बाहर ही रहने दें। खुद पर विश्वास रखें और दिन में अपना शत प्रतिशत योगदान दें।’

पिछले नतीजों के बारे में नहीं सोच रहे हैं, शांत चित्त होकर खेलना चाहते हैं: बाबर

पाकिस्तानी कप्तान बाबर आजम ने शनिवार को यहां कहा कि उनकी टीम विश्व कप में भारत के खिलाफ खराब रिकार्ड के बारे में सोचकर चिंतित नहीं है बल्कि वर्तमान में शांत चित्त रहने की कोशिश कर रही है।

भारत और पाकिस्तान के बीच प्रतिद्वंद्विता जग जाहिर है। लेकिन पाकिस्तान की टीम कभी भी बड़े मंच पर भारत के खिलाफ जीत दर्ज नहीं कर पायी है। उसने टी20 और 50 ओवर के विश्व कप में भारत के खिलाफ अपने सभी 12 मुकाबले गंवाये हैं।आईसीसी टी20 विश्व कप में रविवार को दोनों टीमें आमने सामने होंगी।

बाबर ने मैच पूर्व संध्या पर आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘‘ईमानदारी से कहूं तो हम पिछले मैचों पर ध्यान नहीं देना चाहते। हम इस विश्व कप के बारे में सोच रहे हैं। हम अपनी मजबूती और काबिलियत पर ध्यान देना चाहेंगे और इसका इस्तेमाल मैच के दौरान करेंगे। ’’

इस साल टी20 में दो शतक लगा चुके दायें हाथ के बल्लेबाज ने कहा, ‘‘चीजों को सरल रखना और ‘बेसिक्स’ पर डटे रहना महत्वपूर्ण है। हम अच्छी क्रिकेट खेलने की कोशिश करेंगे और बेहतर नतीजा हासिल करना चाहेंगे। ’’
दोनों पड़ोसी देशों के बीच तनाव के कारण दोनों टीमों एक दूसरे से द्विपक्षीय श्रृंखलायें नहीं खेलती। दोनों टीमों के बीच पिछली भिड़ंत इंग्लैंड में 2019 वनडे विश्व कप मैच के दौरान हुई थी।

यह पूछने पर कि इस बड़े मैच से पहले उनकी नींद गायब हुई तो बाबर ने कहा, ‘‘हम काफी टूर्नामेंट खेल चुके हैं, हमने चैम्पियंस ट्राफी में भी अच्छा किया था। ’’उन्होंने कहा, ‘‘हम इसे जितना सरल रखेंगे, उतना ही बेहतर होगा। इसमें सिर्फ बेसिक्स पर अडिग रहना होगा और साथ ही शांत चित्त बने रहना होगा। ’’

उन्होंने कहा, ‘‘हमारी तैयारी हमारे हाथों में हैं और हमने अपना शत प्रतिशत दिया है। हमें मैच के दिन अच्छी क्रिकेट खेलने की उम्मीद है। ’’

पाकिस्तान कप्तान ने पूर्व कप्तान सरफराज अहमद को छोड़कर अनुभवी शोएब मलिक को तरजीह देने का बड़ा फैसला किया।उन्होंने कहा, ‘‘सरफराज स्पिन का अच्छा खिलाड़ी है और उसमें भारत के खिलाफ खेलने के लिये अच्छा आत्मविश्वास भी है। लेकिन हमें लगता है कि इस मैच के लिये ये हमारे सर्वश्रेष्ठ 11 खिलाड़ी होंगे। ’’

बाबर ने कहा, ‘‘शोएब मलिक फ्रंट फुट पर काफी अच्छा खेलते हैं और स्पिन का बखूबी सामना करते हैं। इसलिये हमने उन्हें चुना है। निश्चित रूप से सरफराज को आगे आने वाले मैचों में मौका मिलेगा। ’’

उन्होंने कहा, ‘‘टूर्नामेंट में पहला मैच हमेशा अहम होता है और हम अच्छी शुरूआत की उम्मीद करेंगे और इस लय को आगे बढ़ायेंगे। ’’बाबर ने कहा, ‘‘मुझे अपनी टीम के संयोजन पर पूरा भरोसा है। हम एक बार में एक ही मैच पर ध्यान लगायेंगे। ’’(भाषा)



और भी पढ़ें :