शरद पूर्णिमा व्रत शुभ मुहूर्त : कब होगा चंद्रोदय, कब से कब तक है पूर्णिमा की तिथि

Shubh Muhurta
Last Updated: मंगलवार, 19 अक्टूबर 2021 (11:46 IST)
19 अ‍क्टूबर 2021 को शरद पूर्णिमा का व्रत रखा जएगा। यह पूर्णिमा हिन्दू कैलेंडर के अनुसार प्रतिवर्ष आश्विन माह में आती है। आओ जानते हैं व्रत और पूजा का और कब होगा तथा कब से कब तरह रहेगी पूर्णिमा तिथि।


1. शरद पूर्णिमा दिनांक : 19 अक्टूबर 2021

2. शरद पूर्णिमा वार : मंगलवार

3. तिथि प्रारंभ और अंत : 19 अक्टूबर शाम 7 बजकर 5 मिनट 43 सेकंड से पूर्णिमा तिथि प्रारंभ होकर 20 अक्टूबर को रात्रि 8 बजकर 28 मिनट और 57 सेकंड पर तिथि समाप्त होगी।

4. शुभ मुहूर्त :
अभिजीत मुहूर्त– प्रात: 11:43 से दोपहर 12:28 तक।
अमृत काल– प्रात: 07:08 से 08:49 तक।
ब्रह्म मुहूर्त– प्रात: 04:52 से 05:40 तक।
विजय मुहूर्त - दोपहर 01:38 से 02:23 तक।
गोधूलि मुहूर्त- संध्या 05:16 से 05:40 तक।
निशिता मुहूर्त- रात्रि 11:18 से 12:08 तक।
5. दिन का चौघड़िया :
लाभ- प्रात: 10:41 से 12:06 तक।
अमृत- दोपहर 12:06 से 01:30 तक।
शुभ- दोपहर 02:54 से 04:19 तक।

6. रात का चौघड़िया :
लाभ- संध्या 07:19 से रात्रि 08:54 तक
शुभ- रात्रि 10:30 से 12:06 तक।
अमृत- रात्रि 12:06 से 01:42 तक।

नोट : शरद पूर्णिमा का पूजन सांयकाल में चंद्रोदय के बाद किया जाता है। इस दिन पूजन का शुभ मुहूर्त शाम को 5 बजकर 27 मिनट पर चंद्रोदय के बाद रहेगा। स्थानीय समयानुसार चंद्रोदय का समय अलग-अलग होता और तिथि मुहूर्त में भी स्थानीय पंचांग के अनुसार कुछ मिनट की घट-बढ़ होती है।



और भी पढ़ें :