सोमवार, 15 अप्रैल 2024
  • Webdunia Deals
  1. समाचार
  2. रूस-यूक्रेन वॉर
  3. न्यूज़ : रूस-यूक्रेन वॉर
  4. Russia and Ukraine hold talks via video link
Written By
Last Updated : सोमवार, 14 मार्च 2022 (22:30 IST)

Russia-Ukraine War: रूसी हमलों के जारी रहने के बीच दोनों पक्षों ने वीडियो लिंक के जरिए की वार्ता

Russia-Ukraine War: रूसी हमलों के जारी रहने के बीच दोनों पक्षों ने वीडियो लिंक के जरिए की वार्ता - Russia and Ukraine hold talks via video link
ल्वीव (यूक्रेन)। यूक्रेन की राजधानी कीव और अन्य शहरों पर हमलों के बीच रूस और यूक्रेन के वार्ताकारों ने सोमवार को एक और दौर की वार्ता की। यूक्रेन के राष्ट्रपति के सलाहकार मिखाइलो पोदोल्याक ने कहा है कि रूस के साथ शांति वार्ता आज खत्म हुई लेकिन मंगलवार को यह फिर शुरू होगी।

 
बेलारूस की सीमा पर तीन बार वार्ता विफल होने के बाद दोनों देशों ने 10 मार्च को पहली बार वीडियो लिंक के जरिए बातचीत की थी। पोदोल्याक ने ट्वीट किया कि कल मंगलवार तक के लिए बातचीत को विराम दिया गया है। अतिरिक्त कामकाज के लिए यह किया गया। वार्ता जारी रहेगी। रेडक्रॉस ने कहा कि यूक्रेनवासियों के लिए रूस युद्ध दु:स्वप्न से कम नहीं है।
 
रेडक्रॉस के एक शीर्ष अधिकारी ने सोमवार को कहा कि यूक्रेन में वर्तमान में युद्ध से घिरे हुए शहरों में रह रहे लोग अथाह संकट का सामना कर रहे हैं और अधिकारी ने नागरिकों को निकलने एवं मानवीय सहायता पहुंचाने के लिए अग्रिम मोर्चों पर सुरक्षित मार्ग की अनुमति देने का आह्वान किया।

 
पोलैंड की सीमा के निकट एक सैन्य ठिकाने पर रूस द्वारा किए गए हवाई हमले से लड़ाई के उत्तरी अटलांटिक संधि संगठन (नाटो) तक पहुंचने की बढ़ती आशंका के बीच रूसी सेना यूक्रेन की राजधानी कीव पर कब्जा करने के प्रयास में वहां भारी गोलाबारी कर रही है। यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने कहा कि हर कोई खबर का इंतजार कर रहा है।
 
यूक्रेन पर 19वें दिन भी रूसी हमलों के बावजूद दोनों देशों के अधिकारियों के बीच वार्ता के एक नए दौर ने रूसी सेनाओं से घिरे यूक्रेन के शहरों से नागरिकों की निकासी और आपात सामानों की आपूर्ति की उम्मीद फिर जगी है। यूक्रेन के राष्ट्रपति के सहयोगी मिखाइलो पोडोलीक ने वीडियो लिंक द्वारा दोनों पक्षों की बैठक की एक तस्वीर ट्वीट की।
 
पोडोलीक ने सोमवार को ट्विट किया था कि वार्ताकार शांति, युद्धविराम, सैनिकों की तत्काल वापसी और सुरक्षा गारंटी पर चर्चा करेंगे। कई घंटों की बातचीत के बाद वार्ता बिना किसी नतीजे के समाप्त हो गई। पोडोलीक ने कहा कि वार्ताकारों ने मंगलवार को फिर से मिलने की योजना बनाई है।
 
पूर्व में रूस से लगने वाली सीमा से लेकर पश्चिम में कारपेथियाई पहाड़ों तक देशभर के शहरों और कस्बों में रातभर हवाई हमलों की चेतावनी देने वाले सायरनों की आवाज गूंजती रही। वहीं कीव के बाहरी इलाकों में भी लड़ाई जारी है।
 
यूक्रेन के अधिकारियों ने कहा कि रूसी सेना ने राजधानी के कई उपनगरों पर गोलाबारी की, जो उनके आक्रमण के लिए एक प्रमुख राजनीतिक और रणनीतिक लक्ष्य है। यूक्रेन के अधिकारियों ने कहा कि कीव में रूसी सेना द्वारा एक हवाई जहाज के कारखाने पर किए गए हमले के बाद आग लगने से 2 लोगों की मौत हो गई तथा सात अन्य घायल हो गए। एंटोनोव कारखाना यूक्रेन का सबसे बड़ा विमान निर्माण संयंत्र है और दुनिया के कई सबसे बड़े मालवाहक विमानों के उत्पादन के लिए जाना जाता है।

 
अधिकारियों ने कहा कि रूसी तोपखाने से की गई गोलाबारी ने शहर के उत्तरी ओबोलोंस्की जिले में नौ मंजिला अपार्टमेंट की इमारत को भी निशाना बनाया जिसमें 2 और लोग मारे गए। दमकलकर्मी जीवित बचे लोगों को बचाने के लिए जूझते दिखे। घटनास्थल से एक घायल महिला को एक स्ट्रेचर पर ले जाया गया। अधिकारियों ने कहा कि कीव के पूर्व में ब्रोवरी के एक नगर पार्षद की वहां लड़ाई में मौत हो गई।
 
क्षेत्रीय प्रशासन के प्रमुख ओलेक्सी कुलेबा ने यूक्रेन के टेलीविजन पर बताया कि कीव के उपनगरों इरपिन, बुचा और होस्तोमेल पर भी गोलाबारी हुई। दक्षिणी शहर माइकोलेव और उत्तरी शहर चेर्निहाइव समेत देश भर में हवाई हमले होने की खबर है। अधिकतर शहरों में बिजली नहीं आ रही ऐसे में घरों और इमारतों को गर्म रखने वाली प्रणाली भी ध्वस्त हो गई है।

 
रूसी कब्जे वाले काला सागर बंदरगाह शहर खेरसान के आसपास भी रात भर विस्फोट हुए। पूर्वी शहर खारकीव में, दमकलकर्मियों ने चार मंजिला आवासीय भवन में लगी आग पर बमुश्किल काबू पाया। यूक्रेन की आपातकालीन सेवाओं ने कहा कि इमारत पर हमला हुआ। यह स्पष्ट नहीं था कि क्या इस हादसे में कुछ लोग हताहत हुए। दक्षिणी शहर मारियुपोल अब भी अन्य हिस्सों से अलग-थलग है। यहां युद्ध से काफी नुकसान हुआ है और यहां निकासी अभियान चलाने और राहत सामग्री पहुंचाने के लिए पहले हुई बातचीत का कोई नतीजा नहीं निकला था।
 
इंटरनेशनल कमिटी ऑफ रेडक्रॉस के महानिदेशक रॉबर्ट मार्दिनी ने इस युद्ध को उससे प्रभावित लेागों के लिए त्रासदी बताया क्योंकि खासकर बुरी तरह घिरे मारियुपोल में लोगों के सामने पेयजल, भोजन, दवाइयों और ईंधन की किल्लत हो गई है। उनके अनुसार चिकित्सा केंद्रों को भी निशाना बनाया जा रहा है।
 
मार्दिनी ने कहा कि रेडक्रॉस लगातार रूसी और यूक्रेनी नेताओं के साथ संवाद कर रहा है लेकिन भयंकर युद्ध से घिरे मारियुपोल एवं कुछ अन्य क्षेत्रों से लोगों के निकलने के लिए अबतक स्थापित मार्ग नहीं हैं। यूक्रेन ने सोमवार को नई मानवीय सहायता और निकासी गलियारों की योजना की घोषणा की, हालांकि जारी गोलाबारी के कारण रविवार सहित पिछले सप्ताह में भी इसी तरह के प्रयास विफल रहे।
 
रूस द्वारा 24 फरवरी को यूक्रेन पर हमला किए जाने के बाद से संयुक्त राष्ट्र के मुताबिक कम से कम 596 नागरिकों की जान जा चुकी है, यद्यपि उसका मानना है कि वास्तविक आंकड़ा कहीं ज्यादा है। रूसी सेना ने कहा कि पूर्वी यूक्रेन में अलगाववादी नियंत्रित शहर डोनेस्क में यूक्रेनी बलों द्वारा शुरू की गई बैलिस्टिक मिसाइल हमले से 20 नागरिक मारे गए।
ये भी पढ़ें
संयुक्त किसान मोर्चा ने किया ऐलान, 21 मार्च को करेंगे देशव्यापी विरोध प्रदर्शन