शिवसेना भवन को लेकर तेज हुई भाजपा व शिवसेना में जुबानी जंग

Last Updated: सोमवार, 2 अगस्त 2021 (12:50 IST)
मुख्‍य बिंदु
  • को लेकर भाजपा की टिप्पणी
  • भाजपा-शिवसेना में जुबानी जंग
  • देवेंद्र फडणवीस ने किया पलटवार
मुंबई। महाराष्ट्र में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के विधान पार्षद (एमएलसी) द्वारा शिवसेना मुख्यालय पर की गई कथित टिप्पणी को लेकर दोनों दलों में जुबानी जंग शुरू हो गई है। शिवसेना नेता संजय राउत ने रविवार को कहा कि मराठी 'मानुष' 'नशे के आदी नेताओं' को नहीं छोड़ेंगे, वहीं पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि अगर कोई भाजपा पर हमला करता है तो पार्टी उसका जवाब देना जानती है।

उल्लेखनीय है कि विधान परिषद में भाजपा के सदस्य प्रसाद लाड ने शनिवार को एक पार्टी कार्यक्रम में कहा था कि अगर मध्य मुंबई के दादर स्थित शिवसेना भवन (शिवसेना का मुख्यालय) को गिराने की जरूरत पड़ी तो ऐसा किया जाएगा। हालांकि बाद में उन्होंने अपने बयान पर खेद व्यक्त करते हुए कहा कि उनके बयान को मीडिया द्वारा गलत संदर्भ में पेश किया गया। उन्होंने अपनी टिप्पणी भी वापस ले ली थी।

बाद में वीडियो संदेश जारी कर लाड ने कहा कि मेरे मन में दिवंगत बाला साहेब ठाकरे के लिए अगाध सम्मान है और मैं शिवसेना भवन को पवित्र स्थान मानता हूं। मैं कैसे शिवसेना भवन के खिलाफ बोल सकता हूं? मेरे कहने का अभिप्राय था कि आगामी बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) चुनाव में भाजपा अपनी प्रतिद्वंद्वी शिवसेना को हरा देगी। पिछले महीने शिवसेना ने हमारे कार्यकर्ताओं पर शिवसेना भवन के सामने हमला किया था और इसलिए यह राजनीतिक जवाब था। यह शिवसेना सुप्रीमो या भवन के खिलाफ नहीं था।

हालांकि उनकी इस सफाई के बावजूद दोनों पार्टियों में जुबानी जंग शुरू हो गई, जो पहले सत्ता में सहयोगी थीं। शिवसेना के मुख्य प्रवक्ता और राज्यसभा सदस्य राउत ने भाजपा की आलोचना करते हुए कहा कि महाराष्ट्र में तुरंत नशामुक्ति कार्यक्रम चलाने की जरूरत है। अन्यथा शिवसेना भवन के सामने की फुटपाथ पर मराठी मानुष नशे के आदी इन नेताओं को नहीं छोड़ेगे। 'शिवसेना भवन' मराठी अस्मिता का चमकता हुआ प्रतीक है... समझने वालों को इशारा ही काफी है।


इससे पहले शिवसेना प्रमुख और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मुंबई में आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि भड़काऊ भाषा को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा और ऐसा बोलने वालों को माकूल जवाब दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि किसी को भी हमें थप्पड़ मारने की भाषा नहीं बोलनी चाहिए, क्योंकि हम जवाब में इतना जोरदार थप्पड़ मारेंगे कि वे अपने पैरों पर भी वापस नहीं जा सकेंगे।


वहीं पूर्व मुख्यमंत्री और विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष फडणवीस ने कहा कि भाजपा 'तोड-फोड़' में भरोसा नहीं करती और 'विध्वंसक राजनीति' उसकी संस्कृति नहीं है। उन्होंने कहा कि हम पहले किसी पर हमला नहीं करेंगे लेकिन अगर किसी ने हम पर हमला किया तो हम चुप नहीं बैठेंगे। हम प्रभावी जवाब देंगे। भाजपा विधायक और केंद्रीय सूक्ष्म लघु और मध्यम उद्यम मंत्री नारायण राणे के बेटे नितेश राणे ने भी ट्विटर के माध्यम से राउत पर निशाना साधा। उन्होंने ट्वीट किया आप सही हैं राउत साहब... महाराष्ट्र को नशामुक्त करने की जरूरत है... और इसकी शुरुआत कलानगर से होनी चाहिए। गौरतलब है कि ठाकरे का निजी आवास 'मातोश्री' मुंबई के बांद्रा में कलानगर इलाके में स्थित है।(भाषा)



और भी पढ़ें :