जूग्जू के ऊपर ड्यूणी पहाड़ी दरकने से जान बचाने के लिए गांव के लोग घरों को छोड़कर भागे

निष्ठा पांडे| Last Updated: मंगलवार, 31 अगस्त 2021 (21:46 IST)
चमोली। चमोली जिले के जोशीमठ ब्लॉक के अंतर्गत भारत-चीन सीमा पर स्थित सीमांत जूग्जू के ऊपर ड्यूणी पहाड़ी पर मंगलवार को हुए भूस्खलन से पहाड़ी के बड़े-बड़े बोल्डर टूटकर नीचे गिर रहे हैं। इस भूस्खलन के बाद पूरे गांव में अफरा-तफरी का माहौल है। जान बचाने के लिए गांव के घरों को छोड़कर भाग रहे हैं। चमोली में नीती घाटी में लगातार भूस्खलन से कई गांव खतरे की जद में आ चुके हैं।
ALSO READ:
नैनीताल की ठंडी सड़क के किनारे भूस्खलन हुआ विस्फोटक

जिसके ऊपर मंगलवार को भूस्खलन हुआ, उसमें फिलहाल 16 परिवार रहते हैं। ग्रामीणों के अनुसार बीते कई सालों से ये पहाड़ी दरकने से ग्रामीण मानसून में अपनी जान बचाने के लिए यत्न करते रहे हैं। इसी के चलते 1994 से इस गांव के विस्थापन की मांग हो रही है लेकिन अभी तक इस गांव का विस्थापन नहीं हो पाया है। मंगलवार को हुए भूस्खलन से ग्रामीणों की सजगता से ग्रामीण बच गए। अगर थोड़ी भी देर गांव वालों ने गांव से भागने में की होती तो गांव में कई लोग जान से हाथ धो सकते थे।



और भी पढ़ें :