TMC की बंगाल के चारों नगर निगमों में प्रचंड जीत, दिलीप घोष ने लगाया वोट लूटने का आरोप

Last Updated: सोमवार, 14 फ़रवरी 2022 (23:21 IST)
हमें फॉलो करें
कोलकाता। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में जबर्दस्त जीत के 9 महीने बाद ने सोमवार को चारों नगर निगमों बिधाननगर, सिलीगुड़ी, चंदरनगर और आसनसोल में शानदार विजय दर्ज की और शहरी मतदाताओं पर अपनी पकड़ की पुष्टि की।
ALSO READ:

लोकसभा चुनाव तक सभी विधानसभा चुनावों में भाजपा और कांग्रेस ही आमने-सामने होंगी

तृणमूल कांग्रेस ने बिधाननगर, चंदरनगर और आसनसोल नगरनिगमों पर अपना कब्जा बरकरार रखा है तथा सिलीगुड़ी में माकपा से सत्ता छीन ली। इन नगर निगमों में तृणमूल के वोट प्रतिशत एवं सीटें दोनों ही 2015 के पिछले चुनाव की तुलना में बहुत अधिक हैं।
आसनसोल और सिलीगुड़ी में माकपा भाजपा के हाथों विपक्ष का दर्जा गंवा बैठी, लेकिन वह बिधाननगर एवं चंदरनगर में काफी खिसकने के बाद भी दूसरे नंबर पर रही। चारों नगर निगमों में तृणमूल को ऐसे समय में शानदार जीत मिली है जब वह बुजुर्ग और नई पीढ़ी के नेताओं के बीच बढ़ते मतभदे के चलते मुश्किल दौर से गुजर रही है।

तृणमूल अध्यक्ष ममता बनर्जी ने कहा कि यह लोगों की जीत है जबकि भाजपा ने दावा किया कि सत्तारूढ़ दल ने 12 फरवरी को मतदान के दिन 'आतंक की तरकीब' अपनाई। तृणमूल कांग्रेस ने 41 में से 39 सीटों पर जीत दर्ज करते हुए बिधाननगर नगर निगम पर फिर से कब्जा जमा लिया है जबकि विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी और मार्क्सवादी पार्टी (माकपा) यहां अपना खाता तक नहीं खोल सकीं। कांग्रेस ने 1 सीट पर जीत दर्ज की और निर्दलीय उम्मीदवार 1 वार्ड में जीता है। राज्य निर्वाचन आयोग की वेबसाइट पर उपलब्ध आंकड़ों से यह जानकारी मिली है।
चंदरनगर में टीएमसी ने 32 में से 31 सीटें जीतीं जबकि माकपा ने 1 सीट जीती है। सत्तारूढ़ पार्टी के लिए सिलीगुड़ी नगर निगम (एमएमसी) माकपा नीत वाम मोर्चे से छीनना सोने पर सुहागा रहा और उसने यहां पर 47 में से 37 सीटों पर जीत दर्ज की।

चुनाव आयोग के आंकड़ों के अनुसार, भाजपा ने पांच सीटों पर कब्जा जमाते हुए विपक्ष का दर्जा हासिल कर लिया है जबकि वाम मोर्चा तीसरे स्थान पर चला गया है। उसे केवल चार सीटें ही मिली और कांग्रेस को 1 सीट मिली है। सिलीगुड़ी में टीएमसी को 78.72 प्रतिशत मत मिले जबकि भाजपा और माकपा को क्रमश: 10.64 फीसद और 8.5 फीसद मत ही मिले। निवर्तमान महापौर और भाजपा विधायक निगम चुनाव हार गए।
चारों नगर निगमों में जीत से उत्साहित पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने ऐलान किया कि पार्टी के नेता गौतम देब एसएमसी के अगले महापौर होंगे। देब ने 3,000 मतों के अंतर से जीत हासिल की है। आसनसोल में तृणमूल 106 में से 91 सीटों पर विजयी हुई है जबकि भाजपा ने 7 सीटें और माकपा ने 2 तथा कांग्रेस ने 3 सीटें जीती हैं। चारों नगर निगमों के लिए चुनाव 12 फरवरी को हुए थे जिसमें 953 प्रत्याशियों ने भाग्य आजमाया था। भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ने कहा कि हम सभी जानते हैं कि चुनाव के दिन कैसे वोट लूटे गए थे। यह परिणाम जनादेश को परिलक्षित नहीं करता है।



और भी पढ़ें :