BMC की घोषणा, मुंबई में स्कूल 31 दिसंबर तक बंद रहेंगे

Last Updated: शुक्रवार, 20 नवंबर 2020 (16:05 IST)
मुंबई। बृहन्महानगरपालिका (बीएमसी) ने शुक्रवार को घोषणा की कि शहर में रहेंगे। इससे पहले स्कूलों को 23 नवंबर से फिर से खोलने का फैसला किया गया था। महानगर में कोविड-19 के मामलों में वृद्धि दर्ज किए जाने के मद्देनजर स्कूलों को फिलहान नहीं खोलने का निर्णय किया गया है।
ALSO READ:
बीएमसी से भगवा हटाने पर गरमाई सियासत, शिवसेना ने 'सामना' से दिया भाजपा को जवाब
एक अधिकारी ने कहा कि हालांकि, महाराष्ट्र के अन्य शहरों में स्कूल स्थानीय परिस्थितियों और मौजूदा महामारी की स्थिति को ध्यान में रखते हुए तय कार्यक्रम के अनुसार फिर से खुल सकते हैं। महाराष्ट्र में स्कूल कोरोना वायरस के प्रकोप के कारण मार्च से बंद हैं। इन स्कूलों को दिवाली की छुट्टियों के बाद 23 नवंबर से नवीं से बारहवीं कक्षा के लिए फिर से खोलने की तैयारी थी।
ने कहा कि कोविड-19 के मामले शहर में बढ़ रहे हैं। कुछ स्कूलों को महामारी के बीच जांच और पृथकवास सुविधाओं के रूप में इस्तेमाल किया जा रहा है। संक्रमण को और अधिक फैलने से रोकने के लिए हमने स्कूलों को 31 दिसंबर तक बंद रखने का फैसला किया है।

गत 16 नवंबर को कोविड-19 के 409 नए मामले सामने आए थे, जो अप्रैल के बाद से एक दिन में सबसे कम मामले थे। उसके बाद शहर में 17, 18 और 19 नवंबर को क्रमशः क्रमशः 541, 871 और 924 नए मामले सामने आए थे। स्कूल शिक्षा विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि अगर स्थानीय स्थितियां अनुकूल हों तो, राज्य के अन्य हिस्सों में स्कूलों को 23 नवंबर से फिर से खोला जा सकता है।

उन्होंने कहा कि अगर कोई मामला नहीं है या संक्रमण के बहुत कम मामले हैं, तो स्थानीय अधिकारियों जैसे नगरपालिका आयुक्त या जिला कलेक्टरों को स्कूलों को फिर से खोलने का अधिकार दिया गया है। इस महीने की शुरुआत में, महाराष्ट्र सरकार ने घोषणा की थी कि स्कूल 23 नवंबर से सभी कोविड-19 सुरक्षा प्रोटोकॉल के साथ नवीं से बारहवीं कक्षा के लिए फिर से खुलेंगे। (भाषा)



और भी पढ़ें :