पीएम मोदी ने भी माना केजरीवाल मॉडल ही देश के विकास का असली मॉडल : सिसोदिया

Last Updated: रविवार, 11 अप्रैल 2021 (10:12 IST)
नई दिल्ली। सीएम अरविंद केजरीवाल के गवर्नेंस मॉडल को फॉलो कर भाजपा और कांग्रेस दूसरे राज्यों में चुनाव लड़ने लगे हैं। इस पर ‘आप’ के वरिष्ठ नेता एवं दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि केजरीवाल के गवर्नेंस मॉडल की तर्ज पर अब भाजपा और कांग्रेस के लोग भी दूसरे राज्यों में फ्री बिजली और महिलाओं को बस में फ्री सफर का चुनावी वादे कर रहे हैं।
केजरीवाल एकमात्र ऐसे नेता हैं, जिनके पास देश को लेकर विजन है। इसलिए आज दिल्ली देश भर में विकास के नए-नए प्रयोगों की एक प्रयोगशाला बन गई है। उन्होंने कहा, प्रधानमंत्री और केंद्रीय गृहमंत्री भी अब मान रहे कि ही देश के विकास का असली मॉडल है।

प्रधानमंत्री स्वयं केजरीवाल सरकार के प्रयोगों को स्वीकार कर देश भर के मुख्यमंत्रियों को कोरोना से निपटने के लिए मिनी कंटेनमेंट जोन और होम आइसोलेशन की सलाह दे रहे हैं। हमें उम्मीद है कि देश के विकास का जो केजरीवाल खाका रख रहे हैं, उसमें भाजपा के लोग और केंद्र सरकार अड़चनें नहीं डालेंगे। साथ ही उन्होंने सुझाव दिया कि प्रधानमंत्री को चाहिए कि वे हर 15 दिन में अरविंद केजरीवाल के साथ देश के विकास के मॉडल पर सलाह मशविरा करें।

मनीष सिसोदिया ने कहा कि प्रधानमंत्री ने मुख्यमंत्रियों के साथ कोरोना की समीक्षा बैठक की थी। वहां उन्होंने होम आइसोलेशन को कोरोना के खिलाफ लड़ाई में सबसे बड़ा हथियार बताया। उन्होंने कहा कि होम आइसोलेशन ही कोरोना से लड़ने और प्रबंधन में अभी तक सबसे कारगर हथियार साबित हुआ है। उन्होंने कहा कि पूरे देश में माइक्रो कंटेनमेंट जोन्स बनाए जाने की जरूरत है।

उन्होंने कहा ‍कि कुल मिलाकर मैं देख रहा हूं कि खासतौर से भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस देश में जहां-जहां चुनाव हो रहे हैं, वो अरविंद केजरीवाल के गवर्नेंस मॉडल को लेकर चुनाव लड़ रहे हैं।


सिसोदिया ने आगे कहा कि अब बीजेपी वाले दूसरे राज्यों में चुनाव लड़ने जाते हैं, तो वहां पर तो केजरीवाल के गवर्नेंस मॉडल को फॉलो करते हैं, लेकिन जब दिल्ली में वही काम अरविंद केजरीवाल करते हैं, तो उसको रोकते हैं।




और भी पढ़ें :