उप्र में बाढ़ का कहर, 15 जिलों के 112 गांव बाढ़ से प्रभावित, कई नदियां लाल निशान से ऊपर

पुनः संशोधित रविवार, 26 सितम्बर 2021 (20:26 IST)
लखनऊ। उत्तरप्रदेश में 15 जिलों के 112 गांव बाढ़ से अभी भी प्रभावित हैं और कई नदियां लाल निशान से ऊपर बह रही हैं। राज्य के राहत आयुक्त रणवीर प्रसाद ने आज यहां यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि 24 घंटे में प्रदेश में 9.6 मिमी औसत वर्षा हुई, जो सामान्य वर्षा से 5.1 मिमी के सापेक्ष 188 प्रतिशत है।
इस प्रकार एक जून से अब तक 742.7 मिमी औसत बारिश हुई, जो सामान्य वर्षा 779.6 मिमी के सापेक्ष 95 प्रतिशत है। उन्होंने बताया कि शारदा-खीरी, तथा क्वानों-गोंडा में खतरे के जल स्तर से ऊपर बह रही है। प्रदेश में वर्तमान में 15 जिलों में 112 गांव बाढ़ से प्रभावित हैं।

प्रदेश के वर्षा से प्रभावित जिलों में सर्च एवं रेस्क्यू के लिए एनडीआरएफ, एसडीआरएफ तथा पीएसी की 59 टीमें तैनाती की गई है, 6732 नावें बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में लगाई गई हैं तथा 1395 मेडिकल टीमें लगाई गई हैं। ने अभी तक 58351 लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया।

प्रसाद ने बताया कि बाढ़ प्रभावित इलाकों में अब तक 358772 ड्राई राशन किट और 637078 फूड पैकेट वितरित किए गए हैं। प्रदेश में 290070.07 मीटर त्रिपाल, पीने के पानी के पाउच 270868 लीटर, ओआरएस के 290820 पैकेट तथा क्लोरीन की 3042051 टेबलेट वितरित की गईं।

प्रदेश में 1134 बाढ़ शरणालय तथा 1258 बाढ़ चौकी स्थापित की गई हैं। प्रदेश में अब तक कुल 1958 पशु शिविर स्थापित किए गए हैं। उन्होंने बताया कि 989585 पशुओं का टीकाकरण किया गया है।(वार्ता)




और भी पढ़ें :