बुरे फंसे रजनीकांत, द्रविड़ संगठन ने लगाया झूठ बोलने का आरोप

पुनः संशोधित शुक्रवार, 17 जनवरी 2020 (16:21 IST)
चेन्नई। द्रविड़ विदुथलई कषगम (डीवीके) ने शुक्रवार को सुपरस्टार रजनीकांत पर समाज सुधारक द्वारा 1971 में की गई रैली के सिलसिले में ‘सरासर झूठ बोलने का’ आरोप लगाया।
अभिनेता
रजनीकांत
से इस संदर्भ में माफी मांगने की मांग की तथा उनके खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए पुलिस में शिकायत भी दर्ज कराई।
डीवीके अध्यक्ष कोलाथुर मणि ने एक बयान में आरोप लगाया कि अभिनेता ने सरासर झूठ बोला कि 1971 में सलेम में अंधविश्वास उन्मूलन सम्मेलन के तहत भगवान राम और सीता की निर्वस्त्र तस्वीरें दिखाई गई थीं।
संगठन ने कहा कि अभिनेता ने 14 जनवरी को एक पत्रिका के कार्यक्रम में यह टिप्पणी की। मणि ने अभिनेता से बिना शर्त माफी मांगने की मांग की और कहा कि उनके संगठन ने उनके विरूद्ध पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है।


और भी पढ़ें :