CM योगी का फरमान- आम आदमी की समस्याओं का हो त्वरित निस्तारण, वरना होगी कड़ी कार्रवाई...

अवनीश कुमार| पुनः संशोधित रविवार, 8 नवंबर 2020 (19:23 IST)
लखनऊ। योगी सरकार ने रविवार को चीफ सेक्रेटरी व डीजीपी उत्तर प्रदेश को कड़े निर्देश देते हुए कहा है कि ब्लॉक, थाना तथा तहसील स्तर पर आम आदमी की समस्याओं का त्वरित एवं प्रभावी निस्तारण किया जाए और आम आदमी की समस्याओं के निस्तारण में अगर लापरवाही बरती जाती है तो लापरवाही करने वाले अधिकारी व कर्मचारियों के ऊपर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाए।
उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था के साथ-साथ आम आदमी की अन्य समस्याओं को लेकर विपक्ष आए दिन योगी सरकार पर निशाना साधा रहता है और यह मौका विपक्ष को कोई और नहीं, बल्कि योगी सरकार के प्रशासनिक अधिकारी ही दे देते हैं, जिसके चलते कभी-कभी योगी सरकार की प्रदेश स्तर पर बेहद किरकिरी भी होती है और वही कभी-कभी आम आदमी को छोटी-छोटी समस्याओं के निस्तारण के लिए दर-दर भटकना पड़ता है और फिर भी उसकी समस्या का निस्तारण नहीं होता है।

इन सभी को देखते हुए योगी सरकार ने रविवार को चीफ सेक्रेटरी व डीजीपी उत्तर प्रदेश को कड़े निर्देश देते हुए कहा है कि ब्लॉक, थाना तथा तहसील स्तर पर आम आदमी की समस्याओं का त्वरित एवं प्रभावी निस्तारण किया जाए और आम आदमी की समस्याओं के निस्तारण में अगर लापरवाही बरती जाती है तो लापरवाही करने वाले अधिकारी व कर्मचारियों के ऊपर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाए।

उल्‍लेखनीय है कि आज लखनऊ में अधिकारियों के साथ बैठक करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने चीफ सेक्रेट्री उत्तर प्रदेश और डीजीपी उत्तर प्रदेश को कड़े निर्देश देते हुए कहा कि ब्लॉक, थाना तथा तहसील स्तर पर आम आदमी की समस्याओं का त्वरित एवं प्रभावी निस्तारण सुनिश्चित किया जाए व ब्लॉक, थाना तथा तहसील स्तर के कार्यालयों में सभी अधिकारियों/कर्मचारियों की समय से उपस्थिति सुनिश्चित की जाए और उनके द्वारा आम आदमी की समस्याओं के निस्तारण की मॉनिटरिंग भी की जाए तथा ब्लॉक,थाना तथा तहसील स्तर के कार्यालयों में ऑनलाइन प्रार्थना पत्र देने की व्यवस्था भी सुनिश्चित की जाए।

साथ ही शिकायतों के निस्तारण की मॉनिटरिंग भी की जाए और आम लोगों की समस्याओं के समाधान से संबंधित अधिकारियों/कर्मचारियों की जवाबदेही भी तय की जाए। उन्होंने बैठक में कहा कि प्रदेश सरकार आम लोगों की समस्याओं के त्वरित एवं प्रभावी निस्तारण हेतु प्रतिबद्ध है और इसमें किसी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। इस काम में लापरवाही करने वाले अधिकारी व कर्मचारियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी।



और भी पढ़ें :