गुरुवार, 2 फ़रवरी 2023
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. प्रादेशिक
  4. Chief Minister Shivraj Singh Chouhan said that he will leave no stone unturned to serve the public
Written By
पुनः संशोधित शुक्रवार, 6 मई 2022 (23:29 IST)

जनता की सेवा के लिए कोई कसर नहीं छोड़ेंगें : शिवराज सिंह

बालाघाट। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि जनता की सेवा के लिए कोई कसर नहीं छोड़ेंगे। स्वास्थ्य शिविर में आए बेटे-बेटियों का इलाज सरकार करेगी। चौहान यहां के किरनापुर में स्व. दिलीप भटेरे की 15वीं पुण्यतिथि पर जिला स्तरीय स्वास्थ्य शिविर एवं आजीविका मिशन की महिलाओं के सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि जनता किसी बात की चिंता नहीं करे। स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए जहां जैसी आवश्यकता होगी वहां इलाज करवाया जाएगा। स्वास्थ्य शिविर में कोई भी बिना इलाज के नहीं रहेगा। उन्होंने कहा कि स्व. दिलीप भटेरे में सेवा, समर्पण एवं विकास की भावना थी। उनके द्वारा किए गए कार्यों को आगे बढ़ाने के लिए लगातार कार्य किए जाएंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोनावायरस (Coronavirus) कोविड-19 काल में जिन बच्चों ने अपने माता-पिता को खो दिया है। सरकार उन बच्चों को प्रतिमाह 5 हजार रुपए की पेंशन और उनके भविष्य को संवारने के लिए आगे की पढ़ाई का खर्च भी वहन करेगी।

उन्होंने स्व-सहायता समूहों की बहनों को रोड रोलर के नवाचार के लिए बधाई दी और कहा कि महिलाएं अब बड़ी, पापड़, अचार, खाद्य सामग्री, साबुन, डिटर्जेंट पाउडर से आगे निकलकर गांव की सड़कें भी बनाएंगी। यह महिला सशक्तिकरण के महायज्ञ की शुरुआत है।

प्रदेश में स्व-सहायता समूहों से बच्चों के लिए पोषण आहार, शाला गणवेश एवं राशन वितरण का काम भी समूह की बहनें कर रही हैं। स्व-सहायता समूहों का प्रदेश में सालाना 20 हजार करोड़ रुपए का टर्न ओवर है। समूहों से लगभग 40 लाख बहनें जुड़ी हैं।

स्व-सहायता समूहों को सशक्त करने के लिए 3 हजार करोड़ रुपए बैंक लिंकेज के माध्यम से खातों में डाले जाएंगे। शासन की मंशा है कि बहनें हर माह कम से कम 10 हजार रुपए की आय अर्जित करें। बेटियों के सशक्तिकरण में बालाघाट जिला प्रदेश में अव्वल है, यहां बेटे एवं बेटियों को एक समान भाव से देखा जाता है।

चौहान ने कहा कि 8 मई को प्रदेशभर में लाड़ली लक्ष्मी दिवस मनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि कृषि प्रधान बालाघाट जिले में कृषकों द्वारा सभी मौसम में फसल उत्पादन किया जाता है। फसलों की सिंचाई के लिए बिजली की कमी नहीं होने देंगे।

उन्होंने कहा कि बालाघाट जिले में प्रधानमंत्री आवास प्लस की सूची में लगभग 85 हजार नाम जोड़े गए हैं। राज्य सरकार की मंशा है कि सबका पक्का मकान हो, इसके लिए इस साल 10 लाख आवास निर्माण के लिए 10 हजार करोड़ रुपए की राशि का प्रावधान किया गया है।

उन्होंने कहा कि स्व. दिलीप भटेरे महाविद्यालय किरनापुर में स्नातकोत्तर कक्षाएं प्रारंभ की जाएंगी। हट्टा में महाविद्यालय इसी सत्र में प्रारंभ हो जाएगा। परसवाड़ा में स्नातकोत्तर कक्षाएं प्रारंभ की जाएगी। लामता प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र का सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में उन्नयन होगा।

बालाघाट-गोंदिया मार्ग पर सरेखा में रेलवे ओव्हर ब्रिज की स्वीकृति बजट में हो चुकी है और शीघ्र ही इसका निर्माण प्रारंभ हो जाएगा। इससे जनता को आवागमन में सुगमता होगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में स्थानीय भाषा को प्रोत्साहन दिया जा रहा है। इसके अंतर्गत मेडिकल एवं इंजीनियरिंग की पढ़ाई भी अब हिन्दी में कराई जाएगी।

जिले की 179 ग्राम पंचायतों से नल-जल कर, प्रकाश कर, संपत्ति कर एवं स्वच्छता कर वसूली कार्य स्व-सहायता समूहों द्वारा किया गया है। इस कर वसूली कार्य के बदले समूहों को वसूली राशि की 15 प्रतिशत राशि पारिश्रमिक के रूप में दिया जाना निर्धारित किया गया है।

अब तक समूहों द्वारा 67 लाख 52 हजार 834 रुपए वसूल किए गए हैं। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने कुल वसूल राशि का कमीशन 10 लाख 12 हजार 925 रुपए का भुगतान सांकेतिक रूप से सिंगल क्लिक से किया। कार्यक्रम के प्रारंभ में मुख्यमंत्री ने कन्या-पूजन कर 169 करोड़ रुपए के विकास कार्यों का लोकार्पण एवं भूमि-पूजन किया।

उन्होंने विकास प्रदर्शनी का अवलोकन किया। स्व. श्री दिलीप भटेरे के छायाचित्र पर पुष्पांजलि भी अर्पित की। आयुष राज्य मंत्री रामकिशोर नानो कांवरे ने परसवाड़ा विधानसभा क्षेत्र के 55 ग्रामों की पेयजल योजना के लिए 146 करोड़ रुपए की स्वीकृति दिए जाने पर मुख्यमंत्री के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया।

मध्य प्रदेश पिछड़ा वर्ग कल्याण आयोग के अध्यक्ष एवं विधायक गौरीशंकर बिसेन ने कहा कि राज्य सरकार ने सर्राटी सिंचाई परियोजना के लिए 30 करोड़ रुपए स्वीकृत किए हैं। अब बालाघाट में नए साइंस कॉलेज एवं रेलवे ओव्हर ब्रिज की जरूरत है।(वार्ता)
ये भी पढ़ें
इस बार बच गई अहमदाबाद की 'आयशा', पति से त्रस्त होकर आत्महत्या करने पहुंची थी रिवर फ्रंट