फेसबुक पोस्ट से बेंगलुरु में भड़की हिंसा, पुलिस फायरिंग में 2 की मौत, 110 गिरफ़्तार

पुनः संशोधित बुधवार, 12 अगस्त 2020 (08:16 IST)
बेंगलुरु। बेंगलुरु के पुलाकेशी नगर में मंगलवार रात भीड़ ने थाने और और के आवास में तोड़फोड़ की। हिंसा को नियंत्रित करने के लिए पुलिस द्वारा की गई फायरिंग में 2 लोगों की मौत हो गई और 110 गिरफ्तार किया गया है।
पुलिस ने बताया कि बड़ी संख्या में लोग विधायक अखंड श्रीनिवास मूर्ति के आवास के निकट जमा हुए और तोड़फोड़ की तथा वहां खड़े वाहनों को क्षतिग्रस्त कर दिया। इसके बाद भीड़ ने यह सोचकर थाने को निशाना बनाया कि पुलिस ने आरोपी को वहां हिरासत में रखा है।

समाचार एजेंसी एएनआई ने बेंगलुरु के ज्वाइंट पुलिस कमिश्नर (क्राइम) संदीप पाटिल के हवाले से बताया कि इस मामले में अब तक 110 लोगों को गिरफ़्तार किया गया है.
प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि हिंसा को रोकने की कोशिश कर रहीं पुलिस टीमों के वाहनों को भी भीड़ ने क्षतिग्रस्त कर दिया।

पर बवाल : पुलिस सूत्रों ने कहा कि खुद को विधायक का रिश्तेदार बताने वाले आरोपी ने कथित रूप से सोशल मीडिया पर एक पोस्ट साझा की, जिससे एक समुदाय के लोग भड़क उठे। विधायक ने समुदाय के लोगों से हिंसा नहीं करने की अपील की।
उन्होंने वीडियो संदेश में कहा, 'मैं मुस्लिम भाईयों से अपील करता हूं कि कुछ उपद्रवियों की गलतियों के चलते हमें हिंसा में शामिल नहीं होना चाहिये। लड़ने-झगड़ने की कोई जरूरत नहीं है। हम सभी भाई हैं। हम कानून के अनुसार दोषियों को सजा दिलाएंगे। हम भी आपके साथ हैं। मैं अपने मुस्लिम दोस्तों से शांति बनाए रखने की अपील करता हूं।'

पूरे शहर में धारा 144 लागू : बेंगलुरु के पुलिस कमिश्नर कमल पंत के अनुसार डीगे हल्ली और केजी हल्ली इलाक़ों में कर्फ़्यू लागू कर दिया गया है और पूरे शहर में धारा 144 लागू कर दिया गया है।
चित्र सौजन्य : ANI/twitter



और भी पढ़ें :