निजी बिजली कंपनी के संयंत्र में हादसा : 13 मजदूर हुए घायल, मुख्यमंत्री ने दिए जांच के आदेश

पुनः संशोधित रविवार, 4 अप्रैल 2021 (15:47 IST)
लखनऊ/ सोनभद्र। के सोनभद्र जिले स्थित एक निजी कंपनी के बिजली घर में शनिवार-रविवार की दरमियानी रात हुए हादसे में 13 श्रमिक घायल हो गए। मुख्यमंत्री ने इस घटना का संज्ञान लेते हुए ऊर्जा विभाग के अपर मुख्य सचिव को मामले की जांच करने के आदेश दिए हैं।
सोनभद्र के अनपरा क्षेत्र में लैंको कंपनी के बिजलीघर के प्रबंधक एसके द्विवेदी द्वारा पुलिस को दी गई सूचना के मुताबिक परियोजना की द्वितीय इकाई के अनुरक्षण कार्य के तहत कुछ मजदूर शनिवार-रविवार की दरमियानी रात करीब 2:45 बजे बॉयलर पर काम कर रहे थे तभी अचानक भाड़ा (लोहे से बना एक ढांचा जिस पर मजदूर चढ़कर काम करते हैं) गिर जाने से 13 मजदूर घायल हो गए।

उन्होंने बताया कि आठ मजदूरों को परियोजना परिषद स्थित अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई, जबकि पांच अन्य मजदूरों को गंभीर हालत में जयंत क्षेत्र स्थित नेहरू अस्पताल में भर्ती कराया गया है।बॉयलर फटने की मीडिया में आई कुछ रिपोर्ट को गलत ठहराते हुए द्विवेदी ने बताया कि यह विद्युत उत्पादन इकाई पिछली 22 मार्च से अनुरक्षण कार्य के लिए बंद थी और करीब एक महीने से यहां काम हो रहा था।

उन्होंने बताया कि कुछ मजदूर भाड़े पर चढ़कर काम कर रहे थे, तभी वह अचानक नीचे आ गिरा,सौभाग्य से कोई भी मजदूर उसके नीचे नहीं खड़ा था। द्विवेदी ने बताया कि कंपनी ने इस मामले के वास्तविक कारणों का पता लगाने के लिए आंतरिक जांच शुरू की है।

इस बीच, सूचना विभाग के अपर मुख्य सचिव नवनीत सहगल ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोनभद्र में लैंको कंपनी के ताप ऊर्जा संयंत्र में हुई दुर्घटना का संज्ञान लेते हुए ऊर्जा विभाग के अपर मुख्य सचिव को मामले की जांच के आदेश दिए हैं।

उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री ने कहा है कि जांच कर इस घटना की जिम्मेदारी तय करते हुए तत्काल प्रभावी कार्रवाई की जाए। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री ने स्थानीय प्रशासन को मौके पर घायलों का समुचित इलाज कराने के निर्देश दिए हैं।(भाषा)



और भी पढ़ें :