अब लगेंगे प्री-पेड विद्युत मीटर

ग्वालियर से कपिल शर्मा| ND| पुनः संशोधित बुधवार, 23 अप्रैल 2008 (19:27 IST)
केंद्रीय विद्युत प्राधिकरण ने सभी राज्यों को निर्देशित किया है कि भविष्य में उपभोक्ताओं के यहाँ प्री-पेड विद्युत मीटर लगाए जाएँ।

प्री-पेड विद्युत मीटर आधुनिक विद्युत मीटर मोबाइल की तरह काम करेगा। इसमें एक सिम सिस्टम रहेगा, जिसे उपभोक्ताओं को बिजली दफ्तर से पहले ही पैसा अदा करके रिचार्ज कराना होगा, तभी मीटर शुरू होगा और बिजली मिल सकेगी। यदि मीटर की सिम में मौजूद बैलेंस खत्म हो जाता है तो मीटर बंद हो जाएगा।

रिचार्ज के लिए अलार्म : यदि उपभोक्ताओं को बिजली जारी रखनी है तो जल्द रिचार्ज कराओ, इसी संदेश के साथ प्री-पेड विद्युत मीटर से अलार्म भी बजेगा।
आम मीटर से महँगा : बिजली उपभोक्ताओं से एडवांस में राजस्व वसूल कराने वाला प्री-पेड विद्युत मीटर आम विद्युत मीटर की अपेक्षा महँगा होगा।

निविदाएँ जारी : मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने मीटर खरीदने के लिए तीन करोड़ 55 लाख रु. की निविदाएँ जारी की हैं, जो 30 अप्रैल को खुलेंगी।

चीफ इंजीनियर (क्रय) ने बताया कि प्री-पेड विद्युत मीटर लगाने के निर्देश मिले हैं। सभी उपभोक्ताओं के यहाँ प्री-पेड मीटर फिलहाल लगा पाना संभव नहीं है, परंतु नई कॉलोनी, नई मल्टीस्टोरी व मॉल आदि में ये मीटर फिट किए जाएँगे।




और भी पढ़ें :