0

श्रीराम के ये 7 गुण हर किसी को सीखना चाहिए जीवन के संकट काल में आते हैं काम

रविवार,अप्रैल 10, 2022
0
1
Ram Navami 2022: 10 अप्रैल 2022 रविवार को त्रिवेणी योग में रामनवमी मनाई जाएगी। इस दिन सर्वार्थसिद्धि योग, रवि योग और रवि पुष्‍य योग रहेगा। रामनवमी के दिन धन, रिश्ते, नौकरी, व्यापार और खुशियों में सकारात्मक परिणाम पाने के लिए जरूर आजमाएं 10 सरलतम ...
1
2
प्रभु श्रीराम को पुरुषों में सबसे उत्तम मर्यादा पुरुषोत्तम कहा जाता है। वे एक आदर्श व्यक्तित्व लिए हुए थे। एक धनुष और एक वचन धारण करने वाले थे। उन्होंने एक पत्नी व्रत भी धारण कर रखा था। उनमें इसी तरह के 16 गुण थे। 16 गुणों के अलावा वे 12 कलाओं से ...
2
3
जग आधार है, एक ही नाम, जपते चलना, जय श्री राम...!!! रघुकुल में जन्में प्रभु श्री राम, आनंद छाया, अयोध्या धाम। दशरथ नंदन दयालु श्री राम, बनाते सकल जग के काम।। जग आधार है.....!!!
3
4
Ram navami ki puja kaise kare : किसी भी देव या भगवान की पूजा करने के शास्त्रों में कई प्रकार बताए गए हैं। जैसे पंचोपचार, दशोपचार व षोडषोपचार पूजा विधि। जातक की जैसी क्षमता या समय होता है वह वैसी पूजा करता है। पंचोपचार में 5, दशोपचार में 10 और ...
4
4
5
10 अप्रैल 2022 को श्रीराम नवमी है। इस दिन प्रभु श्रीराम का जन्मदिवस मनाया जाता है। वेबदुनिया ने संजोई है विशेष सामग्री खास आपके लिए, शुभ मुहूर्त, पूजा विधि, कथाएं और परंपराएं.. हर लिंक पर क्लिक कर के जानिए एक नया राज....
5
6
Ram Navami 2022: इस युग को हम कलयुग न भी माने तो इस आधुनिक युग में प्राचीन काल की अपेक्षा विज्ञान और सुख-सुविधाओं का विस्तार हुआ है लेकिन व्यक्ति का नैतिक पतन भी हो चला है। रिश्ते-नाते अब औपचारिक रह गए हैं। सबकुछ स्वार्थ और धन पर आधारित है। धर्म का ...
6
7
Ram Navami Puja ke MuhurtRam NavamiRam Navami 2022 Kab Hai : चैत्र नवरात्रि के नौवें दिन यानी शुक्ल पक्ष नवमी के दिन राम नवमी का पर्व मनाया जाता है। इस दिन प्रभु श्रीराम का जन्म हुआ था। इस बार दुर्लभ संयोग में मनेगी रामनवमी। अंग्रेजी कैलेंडर के ...
7
8
Ram Navami 2022 : भगवान प्रभु श्रीराम का जन्म वाल्मीकि कृत रामायण के अनुसार चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की नवमी को हुआ था। आओ जानते हैं जन्म की 5 रोचक घटनाएं।
8
8
9
जो समाज की विभिन्न अवस्थाओं से गुजरता है और अनेक प्रकार के कष्ट सहन करता है। चक्रवर्ती सम्राट के सुपुत्र हैं राम पर गुरुकुल या वनवास की सभी मर्यादाओं का पालन करते हैं। ram navami 2022
9
10
Ram Navami 2022 Kab Hai : चैत्र शुक्ल प्रतिपदा से नवरात्रि प्रारंभ होती है। नवरात्रि के नौवें दिन यानी नवमी के दिन राम नवमी रहती है। इस दिन प्रभु श्रीराम का जन्म हुआ था। अंग्रेजी कैलेंडर के अनुसार वर्ष 2022 में 10 अप्रैल रविवार को रामनवमी रहेगी। आओ ...
10
11
Ramnavmi Special हिन्दू धर्मग्रंथों के अनुसार मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु श्रीराम विष्णु के दशावतारों में से 7वें अवतार हैं। श्रीराम एक आदर्श पुरुष थे। राम नवमी (Shri Ram) के दिन उनका पूजन, मंत्र, स्तुति, चालीसा, आरती, रामाष्टक आदि का पाठ करने से ...
11
12
Chait Ram Navami kab hai 2022 mein : 10 अप्रैल को रामनवमी का पर्व मनाया जाएगा। इस दिन प्रभु श्रीराम का जन्म हुआ था। उनके जन्मोत्सव पर उन्हें सरल उपायों से प्रसन्न करके उनका आशीर्वाद प्राप्त कर सकते है जिससे हर क्षेत्र में विजय और उन्नति मिलेगी।
12
13
Ram Navami 2022: 10 अप्रैल 2022 रविवार को रामनवमी का त्योहार इस बार बड़े धूम धाम से मनाया जाएगा। इसी संदर्भ में जानते हैं प्रभु श्रीराम के वंश के बारे में। प्रभु श्रीराम के वंश को रघु और उससे पूर्व इक्ष्वाकु वंश और उससे भी पूर्व विवस्वान (सूर्य) के ...
13
14
चैत्र शुक्ल प्रतिपदा से नवरात्रि प्रारंभ होती है। नवरात्रि के नौवें दिन यानी नवमी के दिन राम नवमी रहती है। इस दिन प्रभु श्रीराम का जन्म हुआ था। आओ जानते हैं कि अंग्रेजी कैलेंडर के अनुसार वर्ष 2022 में कब है रामनवमी, कैसे करें पूजा और किन 10 गलतियों ...
14
15
Ram Navami recipes राम नवमी भारत का लोकप्रिय त्योहार है जिसे बेहद उत्साहपूर्वक मनाया जाता है। राम नवमी के दिन व्रत-उपवास रखकर प्रभु श्री राम की पूजा, आरती के बाद उन्हें नैवेद्य चढ़ाया जाता है। यहां जानिए राम नवमी के खास पारंपरिक व्यंजन-Ram Navami ...
15
16

रामनवमी कैसे मनाई जाती है?

गुरुवार,अप्रैल 7, 2022
Ram navami kaise manate hai: चैत्र माह के शुक्ल पक्ष में नवरात्रि की नवमी को रामनवमी कहते हैं। इस दिन दशरथ पुत्र प्रभु श्री राम का जन्म हुआ है। इसे राम जन्मोत्सव के रूप में मनाया जाता है। इस बार 10 अप्रैल 2022 रविवार को राम नवमी का पर्व मनाया जाएगा।
16
17
श्री राम रक्षा स्तोत्र का पाठ करने से सभी विपत्तियों का नाश होता है तथा मनुष्य भयरहित होकर सुख-संपत्ति, वैभवपूर्ण जीवन जीता है और दीर्घायु होता है। यहां पढ़ें सम्पूर्ण पाठ-Ram Raksha Stotra
17
18
श्री राम नवमी (Shri Ram Navami) के दिन प्रसाद के रूप में मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु रामचंद्र जी को नैवेद्य में पंचामृत (Panchamrut) चढ़ाया जाता है, क्योंकि भगवान राम के पूजन में दूध और घी का अहम स्थान माना गया है।
18
19
चैत्र मास की नवमी तिथि को श्रीराम नवमी के रूप मनाया जाता है। चैत्र मास की प्रतिपदा से लेकर नवमी तक नवरात्रि भी मनाई जाती है। मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान राम के जन्मदिवस के उपलक्ष्य में रामनवमी मनाई जाती है जो कि भगवान विष्णु के 7वें अवतार थे।
19