भारतीय अमेरिकी न्यायाधीश को सौंपा Google के खिलाफ मुकदमा

पुनः संशोधित गुरुवार, 22 अक्टूबर 2020 (20:18 IST)
न्यूयॉर्क। भारतीय मूल के अमेरिकी जिला न्यायाधीश अमित मेहता को के खिलाफ न्याय विभाग का महत्वपूर्ण मुकदमा सौंपा गया है। अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने 22 दिसंबर, 2014 को मेहता को कोलंबिया प्रांत के वास्ते के लिए नियुक्त किया था।
भारत के गुजरात में जन्मे, मेहता के पास 1993 में जॉर्जटाउन विश्वविद्यालय से स्नातक की डिग्री है और उन्होंने यूनिवर्सिटी ऑफ वर्जीनिया स्कूल ऑफ लॉ में कानून की पढ़ाई की।

लॉ स्कूल के बाद मेहता ने नौवीं सर्किट कोर्ट में क्लर्क का काम करने से पहले सैन फ्रांसिस्को की एक कानूनी फर्म में काम किया था। वर्ष 2002 में मेहता एक स्टॉफ अटॉर्नी के रूप में ‘डिस्ट्रिक्ट ऑफ कोलंबिया पब्लिक डिफेंडर सर्विस’ में कार्यरत हुए।

न्याय विभाग और 11 राज्यों के अटॉर्नी जनरल ने मंगलवार को कोलंबिया जिले के लिए अमेरिकी जिला अदालत में गूगल इंटरनेट कंपनी के खिलाफ अविश्वास (एंटीट्रस्ट) का मुकदमा दायर किया था। इस मामले में आरोप लगाया गया था कि इसने ऑनलाइन खोज और विज्ञापन में अपने वर्चस्व का इस्तेमाल प्रतिस्पर्धा को खत्म करने के लिए किया।

इसमें शामिल अन्य राज्य के अटॉर्नी जनरल कार्यालय अरकंसास, फ्लोरिडा, जॉर्जिया, इंडियाना, केंटकी, लुइसियाना, मिसिसिपी, मिसौरी, मोंटाना, दक्षिण कैरोलिना और टेक्सास का प्रतिनिधित्व करते हैं।
न्याय विभाग ने कहा कि वर्षों से गूगल के पास अमेरिका में सर्च किए जाने वाले प्रश्नों का लगभग 90 प्रतिशत हिस्सा है और उसने सर्च तथा विज्ञापन में अपने एकाधिकार को बनाए रखने और बढ़ाने के लिए प्रतिस्पर्धा विरोधी रणनीति का उपयोग किया है।(भाषा)



और भी पढ़ें :