शुक्रवार, 3 फ़रवरी 2023
  1. धर्म-संसार
  2. व्रत-त्योहार
  3. शारदीय नवरात्रि
  4. Sharadiya Navratri Lal Kitab
Last Updated: शुक्रवार, 8 अक्टूबर 2021 (18:58 IST)

शारदीय नवरात्रि 2021 : लाल किताब अनुसार नवरात्र में करें ये कार्य तो होगा ये फायदा

लाल किताब के अनुसार बुधवार का दिन माता दुर्गा का दिन माना जाता है। पुराणों अनुसार बुध ग्रह का वाहन सिंह है और इनकी तुलना शक्ति से की गई है। जिस प्रकार भक्तों का दुख: हरने हेतु भगवती दुर्गा सिंह पर सवार होकर विचरण करती रहती हैं उसी प्रकार बुध भी अपने वाहन सिंह पर सवार होकर सृष्टि में विचरण करते रहते हैं। आओ जानते हैं कि लाल किताब अनुसार नवरात्रि में करें कौनसे उपाय और क्या होंगे उसके फायदे।
 
 
लाल किताब में बुध और मां दुर्गा : लाल किताब के अनुसार मां दुर्गा, हरे रंग का तोता, भेड़ और बकरी, सिर, जबान का मालिक बुध ग्रह है। पहले मां पैदा हुई या बेटी? इसीलिए दोनों ही बुध है। मतलब आपको जन्म देने वाली माता और आपकी बेटी दोनों ही बुध है। बेटी जब तक बेटी रहती है तब तक बुध है और जब वह स्वयं मां बन जाती है तो चंद्र हो जाती है। मतलब यह कि चंद्र और बुध ही मां बेटी हैं। बुध को बहन भी माना गया है। मलतब है कि आपकी बहन भी बुध का प्रतीक है।
 
लाल किताब के उपाय : 
1. दुर्गा की भक्ति : बुध से हमारा व्यापार और नौकरी पर प्रभाव पड़ता। बुध के सभी तरह के कष्ट से बचने के लिए शक्ति की ही उपासना की जाती है। लाल किताब अनुसार दुर्गा की भक्ति करने से बुध ग्रह से उत्पन्न सभी तरह के दोष मिट जाते हैं। खराब बुध अच्छा फल देने लगता है। खराब बुध से नौकरी और व्यापार में नुकसान होने लगता है।
 
2. नंगे पैर जाएं नौ दिनों तक मंदिर : नवरात्रि के 9 दिनों तक रोज नग्न पैर दुर्गा के मंदिर जाएं। दुर्गा चालीसा और दुर्गा सप्तसती का पाठ करें। माता का मं‍त्र ॐ दुर्ग दुर्गाय नम: का जाप करें।
 
3. इनको रखें खुश : बहन, बेटी, बुआ, साली और कन्याओं को खुश रखें तथा उनसे आशीर्वाद लें। बेटी, बहन, बुआ और साली का अपमान ना करें।
 
4. करें ये दान : बुधवार के दिन दुर्गा माता के मंदिर में जाएं और उन्हें हरे रंग की चूड़ियां चढ़ाएं या 9 कन्याओं को हरे रंग का रुमाल बांटें। अपने साथ हरा रुमाल जरूर रखें। मंदिर में साबुत हरे मूंग का दान करें।
 
5. नाक छिदवाएं : यदि आपका बुद्ध छठे या आठवें भाव में बैठकर बुरा फल दे रहा है तो बुधवार को नाक छिनवाकर दूसरे दिन गुरु का दान करें और नाक में 43 दिन तक चांदी का तार डालकर रखें। लेकिन यह कार्य किसी लाल किताब के विशेषज्ञ से सलाह लेकर ही करें।
 
6. गाय को चारा खिलाएं : नवरात्रि में हर दिन गाय को हरा चारा खिलाएं। खासकर बुधवार को जरूर खिलाएंऐ।
 
7. तुलसी का पत्ता खाएं : बुधवार के दिन तुलसी का गिरा हुआ पत्ता धोकर खाना बहुत शुभ होता है। सबसे जरूरी यह कि झूठ ना बोलें। 

ये भी पढ़ें
Picture Story : नवरात्रि में उपवास के 10 नियम