नवरात्रि में 9 दिन चढ़ाएं ये फूल, जीवन के लिए होगा बड़ा शुभ

gudhal ka phool
Last Updated: शुक्रवार, 8 अक्टूबर 2021 (20:12 IST)
शारदीय नवरात्रि में मूर्ति स्थापना, घटस्थापना, कलश पूजा, व्रत, गरबा, दुर्गा पूजा, हवन, कन्या भोज और विसर्जन किया जाता है। इस दौरान यदि आप माता को प्रसन्न करने के लिए उनके मंदिर में जाकर उन्हें हर रोज एक अर्पित करेंगे तो माता प्रसन्न होगी। आओ जानते हैं 9 दिन के 9 फूल।


1. शैलपुत्री : पहले दिन माता शैलपुत्री की पूजा की जाती है। मां शैलपुत्री को गुड़हल का लाल फूल और सफेद कनेर का फूल अर्पित करने से वे बहुत प्रसन्न होती हैं।

2. ब्रह्मचारिणी : दूसरे दिन माता ब्रह्मचारिणी की पूजा की जाती है। मां ब्रह्मचारिणी को गुलदाउदी का फूल पसंद हैं। इस दिन मां के चरणों में यह फूल अर्पित कर उन्हें प्रसन्न किया सकता है।
3. चंद्रघंटा : तीसरे दिन मां दुर्गा के चंद्रघंटा स्वरूप की पूजा की जाती है। मां चंद्रघंटा को कमल का फूल और शंखपुष्पी का फूल बेहद पसंद हैं। इस दिन मां के चरणों में यह फूल अर्पित करने से मां प्रसन्न होती है और जल्दी सफलता मिलती है।

4. कुष्मांडा : चौथे दिन माता कुष्मांडा की पूजा की जाती है। मां कुष्मांडा को चमेली का फूल या पीले रंग का कोई भी फूल पसंद है। इस फूल को अर्पण करने से मां प्रसन्न होकर अपने भक्तों को अच्छे स्वास्थ्य का आशीर्वाद देती हैं।
5. स्कंदमाता : पांचवें दिन स्कंदमाता की पूजा की जाती है। मां को पीले रंग के फूल बहुत पसंद हैं। इस दिन माता को यह फूल अर्पित करने से मां प्रसन्न होकर सुख और समृद्धि का आशीर्वाद देती हैं।

6. कात्यायनी : छठे दिन माता कात्यायनी की पूजा होती है। कहा जाता है कि मां कात्यायनी को गेंदे का फूल और बेर के पेड़ का फूल पसंद है। उनके चरणों में ये फूल अर्पित करने से मां की विशेष कृपा प्राप्त होती है।
7. कालरात्रि : सातवें दिन मां कालरात्रि की पूजा होती है। माता कालरात्रि को नीले रंग का कृष्ण कमल का फूल बहुत अधिक पसंद है। यदि ये फूल न मिले तो ​कोई भी नीले रंग का फूल भी अर्पित करेंगे तो माता प्रसन्न होगी।

8. महागौरी : आठवें दिन महागौरी माता की पूजा की जाती है। माता महागौरी को मोगरे का फूल बेहद पसंद है। इस दिन मां के चरणों में यह फूल अर्पित करेंगे तो तो मां की कृपा हमेशा आपके घर-परिवार पर बनी रहेगी।
9. सिद्धिदात्री : नौवें दिन माता सिद्धिदात्री की पूजा की जाती है। मां को चंपा और गुड़हल का फूल बेहद पसंद है। उनके चरणों में इस फूल को चढ़ाने से मां प्रसन्न होती हैं और अपने भक्तों को आशीर्वाद देती हैं।




और भी पढ़ें :