West Bengal Election 2021 : 'दीदी' के मंत्री का दावा- बंगाल में 'ममता कार्ड' मायने रखता है, मोदी का 'राम कार्ड' नहीं

पुनः संशोधित रविवार, 14 फ़रवरी 2021 (20:14 IST)
कोलकाता। (Trinamool Congress) के महासचिव पार्थ चटर्जी ने रविवार को कहा कि (West Bengal) में 'जनता कार्ड' और 'ममता कार्ड' मायने रखता है 'राम कार्ड' नहीं, जिसके बारे में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बात की थी।
ALSO READ:
PM मोदी ने कोच्चि में कई परियोजनाओं की शुरुआत की, कहा- देश के विकास को मिलेगी नई ऊर्जा
ममता बनर्जी मंत्रिमंडल में वरिष्ठ मंत्री चटर्जी ने दावा किया कि भाजपा नेता टीएमसी सरकार द्वारा उठाए गए कल्याणकारी कदमों के सामने जमीन को खो रहे हैं और अब वे बयानबाजी में जुट गए हैं, जिनका चुनाव पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा।
ALSO READ:: कोलकाता में 17 करोड़ के प्रतिबंधित मादक पदार्थों के साथ 5 गिरफ्तार
उन्होंने कोलकाता में टीएमसी मुख्यालय में संवाददाता सम्मेलन में कहा कि 'प्रधानमंत्री ने 'राम कार्ड' की बात की, लेकिन पश्चिम बंगाल में विकास का 'जनता कार्ड' और 'ममता कार्ड' मायने रखता है।'
मोदी ने एक सप्ताह पहले बंगाल के हल्दिया में जनसभा को संबोधित करते हुए कहा था कि टीएमसी सरकार ने बीते 10 साल में कई गलत काम किए और अप्रैल मई में होने वाले विधानसभा चुनाव में उसे 'राम कार्ड' दिखाने का समय आ गया है। (भाषा)



और भी पढ़ें :