Weather update : उत्तर भारत में सर्दी का सितम, दिल्ली में 17 सालों के बाद नवंबर की सबसे सर्द सुबह

cold
पुनः संशोधित सोमवार, 23 नवंबर 2020 (01:55 IST)
नई दिल्ली। के अधिकतर हिस्सों में रविवार को न्यूनतम तापमान गिर गया। जहां श्रीनगर में न्यूनतम तापमान शून्य से 3 डिग्री सेल्सियस कम दर्ज किया गया, वहीं दिल्ली के कुछ हिस्सों में के बीच रविवार को न्यूनतम तापमान 6.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो 2003 के बाद से नवंबर में सबसे कम तापमान है।
भारत विज्ञान विभाग (आईएमडी) के अनुसार, राष्ट्रीय राजधानी में शुक्रवार को न्यूनतम तापमान 7.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था, जो पिछले 14 साल में इस महीने में सबसे कम रहा।

आईएमडी के क्षेत्रीय पूर्वानुमान केंद्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने कहा, ‘सफदरजंग वेधशाला में न्यूनतम तापमान 6.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। यह नवंबर 2003 के बाद से दिल्ली में इस महीने में दर्ज हुआ सबसे कम तापमान है। नवंबर 2003 में न्यूनतम तापमान 6.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था।’
उन्होंने बताया कि पालम मौसम केंद्र में न्यूनतम तापमान गिरकर 6.1 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया। आईएमडी मैदानों में 10 डिग्री सेल्सियस या इससे नीचे तापमान होने पर और लगातार दो दिन सामान्य से 4.5 डिग्री सेल्सियस कम तापमान रहने पर शीत लहर की घोषणा करता है।

श्रीवास्तव ने कहा, ‘दिल्ली जैसे छोटे क्षेत्रों में एक दिन के लिए भी यदि यह मापदंड पूरा होता है, तो शीत लहर की घोषणा की जा सकती है।’ श्रीवास्तव ने कहा कि बर्फ से ढके पश्चिमी हिमालई इलाकों से ठंडी हवा बहने के कारण तापमान में गिरावट आई है। हालांकि ताजा पश्चिमी विक्षोभ के कारण आगामी चार से पांच दिन में न्यूनतम तापमान में दो से तीन डिग्री सेल्सियस की बढ़ोतरी होने की संभावना है।
snowfall
जम्मू कश्मीर के श्रीनगर समेत घाटी के कई इलाकों में न्यूनतम पारा रविवार को शून्य से नीचे चला गया। गुलमर्ग कश्मीर का सबसे सर्द इलाका रहा। मौसम विज्ञान विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि शनिवार रात को श्रीनगर का तापमान शून्य से तीन डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया। यह इस मौसम का सबसे कम तापमान है।
उन्होंने बताया कि उत्तर कश्मीर के बारामूला जिले का गुलमर्ग समूची घाटी का सबसे सर्द इलाका रहा जहां न्यूनतम पारा शून्य से 7.4 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया जबकि दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग जिले के पहलगाम में न्यूनतम तापमान शून्य से 5.6 डिग्री सेल्सियस नीचे रिकॉर्ड हुआ।

अधिकारी ने कहा कि 23 से 25 नवंबर के बीच खासकर, ऊंचाई वाले इलाकों में बारिश और बर्फबारी की संभावना है। उन्होंने बताया कि जम्मू कश्मीर के उत्तर पश्चिम हिस्से और सोनमर्ग-जोजिला के ऊंचाई वाले इलाकों में 23 नवंबर की सुबह से बर्फबारी की संभावना है और यह 25 नवंबर तक जारी रह सकती है।
अधिकारी ने कहा कि व्यापक तौर पर बर्फबारी या बारिश का पूर्वानुमान नहीं है। शिमला में मौसम विभाग ने हिमाचल प्रदेश में बुधवार को भारी बारिश और बर्फबारी होने का अनुमान जताया है जबकि राज्य के कुछ जिलों में शीतलहर जारी है।

शिमला मौसम विज्ञान केन्द्र ने इससे पहले रविवार से बुधवार के बीच बारिश और बर्फबारी का अनुमान जताया था। हालांकि शिमला मौसम विज्ञान केन्द्र के निदेशक मनमोहन सिंह ने रविवार को कहा कि बुधवार को मध्यम ऊंचाई वाले पहाड़ी इलाकों की दूर-दराज की जगहों पर भारी बारिश और ऊंचे पर्वतीय इलाकों में बर्फबारी की संभावना को देखते हुए 'एलो वेदर' चेतावनी जारी की गई है।
मौसम केन्द्र जान-माल के लिए नुकसानदेह साबित होने वाले खराब अथवा बेहद खराब मौसम की आशंका के मद्देनजर विभिन्न रंगों से संबंधित चेतावनियां जारी करता है। एलो अलर्ट सभी चेतावनी स्तर के लिहाज से सबसे कम खतरे का सूचक होता है। यह अगले कुछ दिन मौसम खराब रहने की आशंका की ओर इशारा करता है।

सिंह ने कहा कि लाहौल-स्पीति जिले का केलॉन्ग राज्य का सबसे ठंडा स्थान है, जहां तापमान शून्य से 6.4 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया है जबकि कुफरी का तापमान 3.6 डिग्री सेल्सियस तथा डलहौजी का 3.6 डिग्री सेल्सियस रहा।
उन्होंने कहा कि शिमला में तापमान 5.1 डिग्री सेल्सियस है। राज्य में सबसे अधिक 23.2 डिग्री सेल्सियस तापमान उना का रहा। उत्तर प्रदेश में मुजफ्फरनगर में सबसे कम तापमान दर्ज किया गया जहां न्यूनतम तापमान 6.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। इसके अलावा गोरखपुर, वाराणसी, इलाहाबाद और कानपुर संभागों में भी मौसम सर्द रहा।

राजस्थान में सर्दी लगातार बढ़ती जा रही है, जहां माउंट आबू में रात का न्यूनतम तापमान लगातार दूसरे दिन भी एक डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विभाग के अनुसार बीती शनिवार रात में राज्य के एक मात्र पर्वतीय पर्यटक स्थल माउंट आबू में न्यूनतम तापमान सबसे कम 1.0 डिग्री सेल्सियस रहा।
विभाग ने राज्य में आगामी 24 घंटे के दौरान रात के तापमान में और गिरावट होने की संभावना जताई है। हरियाणा और पंजाब में अधिकतम और न्यूनतम तापमान सामान्य सीमाओं से नीचे दर्ज किया गया। दोनों राज्यों की साझा राजधानी चंडीगढ़ में अधिकतम तापमान सामान्य से चार डिग्री सेल्सियस कम 22.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।



और भी पढ़ें :