बुधवार, 24 अप्रैल 2024
  • Webdunia Deals
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. राष्ट्रीय
  4. Sonia Gandhi P.V. Welcomed the award of 'Bharat Ratna' to Narasimha Rao
Last Updated : शुक्रवार, 9 फ़रवरी 2024 (15:47 IST)

नरसिंह राव को भारतरत्न मिलने का सोनिया ने किया स्वागत, कांशीराम को भी पुरस्कार दिए जाने की मांग

नरसिंह राव को भारतरत्न मिलने का सोनिया ने किया स्वागत, कांशीराम को भी पुरस्कार दिए जाने की मांग - Sonia Gandhi P.V. Welcomed the award of 'Bharat Ratna' to Narasimha Rao
Sonia Gandhi P.V. Welcomed the award of 'Bharat Ratna' to Narasimha Rao : कांग्रेस संसदीय दल की प्रमुख सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने नई दिल्ली में पूर्व प्रधानमंत्री पी.वी. नरसिंह राव (P.V. Narasimha Rao) को 'भारतरत्न' दिए जाने की घोषणा का शुक्रवार को स्वागत किया। मायावती (Mayawati) ने कांशीराम (Kanshi Ram) को भी भारतरत्न दिए जाने की मांग की है।
 
 इस बारे में पूछे जाने पर सोनिया गांधी ने संसद परिसर में कहा कि मैं इसका (घोषणा) स्वागत करती हूं। क्यों नहीं? पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह, पी.वी. नरसिंह राव और मशहूर वैज्ञानिक व देश में हरित क्रांति के जनक डॉ. एम.एस.  स्वामीनाथन को देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान 'भारतरत्न' (मरणोपरांत) से सम्मानित किया जाएगा। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को खुद 'एक्स' पर पोस्ट के जरिए यह जानकारी दी।
 
मायावती ने की कांशीराम को 'भारतरत्न' दिए जाने की मांग : बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो मायावती ने शुक्रवार को लखनऊ में कहा कि जिन भी हस्तियों को भारतरत्न से सम्मानित किया गया, उन्हें शुभकामनाएं और सरकार के इस फैसले का स्वागत है लेकिन इस मामले में खासकर दलित हस्तियों का तिरस्कार और उपेक्षा करना उचित नहीं। मायावती ने कांशीराम को भारतरत्न से सम्मानित किए जाने की मांग दोहराई।
 
मायावती ने 'एक्स' पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि वर्तमान भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार ने जिन भी हस्तियों को भारतरत्न से सम्मानित किया है, उनके फैसले का स्वागत है लेकिन इस मामले में खासकर दलित हस्तियों का तिरस्कार और उपेक्षा करना बिल्कुल भी उचित नहीं है। सरकार इस ओर भी जरूर ध्यान दे।
 
उन्होंने कहा कि बाबा साहेब डॉ. भीमराव आंबेडकर को लंबे इंतजार के बाद वी.पी. सिंह की सरकार द्वारा भारतरत्न से सम्मानित किया गया। उसके बाद दलित व उपेक्षितों के हितों में मसीहा कांशीरामजी का संघर्ष भी कोई कम नहीं है। उन्हें भी भारतरत्न से सम्मानित किया जाए। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को पी.वी. नरसिंह राव और चौधरी चरण सिंह के साथ-साथ कृषि वैज्ञानिक एम.एस. स्वामीनाथन को भारतरत्न से सम्मानित किए जाने की घोषणा की।
 
कांग्रेस ने कहा, राव, चरण सिंह, स्वामीनाथन भारत के रत्न थे, हैं और सदैव रहेंगे: कांग्रेस ने पी.वी. नरसिंह राव, चौधरी चरण सिंह और एम.एस. स्वामीनाथन को 'भारतरत्न' (मरोणपरांत) पुरस्कार दिए जाने की घोषणा के बाद शुक्रवार को कहा कि ये तीनों महान व्यक्तित्व भारत के रत्न थे, हैं और सदैव रहेंगे।
 
पार्टी महासचिव जयराम रमेश ने 'एक्स' पर पोस्ट किया कि पी.वी. नरसिंह राव, चौधरी चरण सिंह और एम.एस. स्वामीनाथनजी भारत के रत्न थे, हैं और सदैव रहेंगे। उनका योगदान अभूतपूर्व था जिसका हर भारतीय सम्मान करता है। उन्होंने दावा किया कि स्वामीनाथन फ़ॉर्मूले के आधार पर किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य का क़ानूनी दर्जा दिए जाने पर मोदी सरकार चुप है।
 
प्रधानमंत्री मोदी की हठधर्मिता के कारण 700 किसान आंदोलन के दौरान शहीद हुए, मगर सरकार ने किसानों के साथ वादाखिलाफी की। आज भी किसान दिल्ली कूच के लिए तैयार बैठे हैं, मगर सरकार कोई सुनवाई नहीं कर रही है। कांग्रेस नेता ने कहा कि 'भारत जोड़ो न्याय यात्रा' में किसानों को न्याय दिलाया जाना एक मुख्य उद्देश्य है।
 
उन्होंने कहा कि कि  'किसान न्याय' के लिए हमारी मांग है कि स्वामीनाथन फ़ॉर्मूले के आधार पर किसान को न्यूनतम समर्थन मूल्य की क़ानूनी गारंटी दी जाए। यही पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंहजी और स्वामीनाथनजी को सही मायनों में श्रद्धांजलि होगी।
 
पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह, पी.वी. नरसिंह राव और मशहूर वैज्ञानिक व देश में हरित क्रांति के जनक डॉ. एम.एस. स्वामीनाथन को देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान 'भारतरत्न' (मरणोपरांत) से सम्मानित किया जाएगा। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को खुद 'एक्स' पर पोस्ट के जरिए यह जानकारी दी।(भाषा)
 
Edited by: Ravindra Gupta
ये भी पढ़ें
जगन मोहन रेड्डी ने की PM मोदी से मुलाकात, आंध्रप्रदेश को विशेष दर्जा देने की मांग की