'राष्ट्रीय एकता दिवस' के तौर पर मनेगी सरदार पटेल की जयंती

नई दिल्ली| पुनः संशोधित रविवार, 26 अक्टूबर 2014 (00:00 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली। नरेंद्र मोदी सरकार ने देश को एकजुट करने के पहले गृहमंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल के प्रयास के प्रति श्रद्धांजलि के तौर पर उनकी जयंती को 'राष्ट्रीय एकता दिवस' के तौर पर मनाने का निर्णय लिया है।

एक सरकारी विज्ञप्ति के अनुसार सरदार वल्लभभाई पटेल को श्रद्धांजलि देने संबंधी कार्यक्रम यहां संसद मार्ग के पटेल चौक पर किया जाएगा। सभी बड़े शहरों, जिला मुख्यालय शहरों एवं ग्रामीण क्षेत्रों में अन्य स्थानों पर भी ‘रन फॉर यूनिटी’ का आयोजन किया जाएगा जिसमें समाज के सभी वर्ग खासकर कॉलेज, एनसीसी और एनएसएस के युवक हिस्सा लेंगे।

राष्ट्रीय राजधानी में राजपथ पर विजय चौक से इंडिया गेट तक ‘रन फॉन यूनिटी’ आयोजित किया जाएगा। इस अवसर पर सभी सरकारी कार्यालयों, सार्वजनिक उपक्रमों एवं अन्य संस्थानों में शपथ ग्रहण समारोह का भी आयोजन किया जाएगा। संबंधित संगठन इसका समय तय करेंगे।
गुजरात के मुख्यमंत्री के तौर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नर्मदा नदी के तट पर पटेल की दुनिया की सर्वोच्च प्रतिमा लगाने की पहल पहले ही शुरू की थी। पटेल गुजरात से आने वाले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता थे।

गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि यह अवसर हमारे राष्ट्र को एकता, अखंडता तथा सुरक्षा के सामने खड़े वास्तविक एवं भारी खतरों के प्रति अपनी ताकत एवं दृढ़ता के प्रति फिर से निश्चय प्रकट करने का मौका प्रदान करेगा। (भाषा)



और भी पढ़ें :