Live : सुप्रीम कोर्ट में अयोध्या केस पर आज आखिरी बहस

Last Updated: बुधवार, 16 अक्टूबर 2019 (13:08 IST)
नई दिल्ली। अयोध्या राम जन्मभूमि के जिस मुकदमे पर पूरे देश की निगाहें हैं, उसकी सुनवाई आज पूरी हो सकती है। 39 दिन से रोज इस मामले की सुनवाई कर रहा है। अयोध्या में राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद से संबंधित 2.77 एकड़ भूमि के मामले में इलाहाबाद हाईकोर्ट के 30 सितंबर 2010 के 2:1 के बहुमत के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में 14 अपीलें दायर की गई हैं। ताजा अपडेट्‍स-

- अयोध्या केस की सुनवाई लंच के लिए रुकी। लंच के बाद फिर से सुनवाई शुरू होगी। 5 बजे की समय सीमा पर कोर्ट कायम है।

- धवन के इस रवैए से मुख्‍य न्यायाधीश (CJI) रंजन गोगोई नाराज।


- मुस्लिम पक्ष के वकील राजीव धवन ने किताब का नक्शा फाड़ दिया।

- हिंदू महासभा के वकील ने ऑक्सफोर्ड की एक किताब का हवाला दिया।

- सुनवाई के दौरान मुस्लिम पक्ष के वकील ने ऑक्सफोर्ड (Oxford) की किताब का नक्शा फाड़ दिया।


- सूत्रों के अनुसार सुन्नी वक्फ बोर्ड ने जमीन पर दावा छोड़ने की बात कही है।

- सभी पक्षों ने कोर्ट में दस्तावेज दाखिल किए।

- कोर्ट ने कहा बुधवार को एक घंटा मुस्लिम पक्षकार जवाब देंगे।

- चार पक्षकारों को 45-45 मिनट मिलेंगे।

- अयोध्या मामले की सुनवाई बुधवार को ही खत्म होने की उम्मीद है। मोल्डिंग ऑफ रिलीफ पर भी आज ही सुनवाई हो सकती है।

-
सुनवाई को देखते हुए अयोध्या में धारा 144 लागू।

- सीजेआई ने कहा- आज सुनवाई पूरी करके ही उठेंगे। सीजेआई ने कहा- आज शाम 5 बजे तक होगी सुनवाई।


- 5 जजों की पीठ कर रही है मामले की सुनवाई।

- सुनवाई के 39वें दिन कोर्ट में हिंदू पक्ष महंत सुरेश दास की ओर से पेश वरिष्ठ वकील के. परासरन ने कहा कि बाबर आक्रमणकारी था। उसने राम जन्मस्थान पर मस्जिद बनाई थी। इस ऐतिहासिक गलती को सुधारने का समय है। उन्होंने कोर्ट में यह भी कहा कि किसी विदेश का देश में मालिकाना हक नहीं हो सकता।


और भी पढ़ें :