GDP का मतलब गैस-डीजल और पेट्रोल की कीमत बढ़ना, 23 लाख करोड़ का हिसाब दे मोदी सरकार : राहुल गांधी

Last Updated: बुधवार, 1 सितम्बर 2021 (17:45 IST)
नई दिल्ली। पेट्रोल, और गैस के बढ़ते दामों को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर निशाना साधा है। राहुल गांधी ने कहा कि पिछले सात साल से तेज रफ्तार से बढ़ रही है।


राहुल गांधी ने कहा कि महंगाई पर देश की जनता की बात रख रहा हूं। राहुल गांधी ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि मोनोटाइजेशन से किसका फायदा हो रहा है।

हम दो हमारे दो का मोनोटाइजेशन हो रहा है। उन्होंने कहा पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ने से सामान महंगा हो रहा है। जीडीपी बढ़ रही है मतलब पेट्रोल, डीजल, गैस महंगा हो रहा है। रसोई गैस की कीमतों में 116 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है।
23 लाख करोड़ का हिसाब दे सरकार : राहुल गांधी ने कहा कि पिछले 7 साल में सरकार ने 23 लाख करोड़ रुपए कमाए हैं लेकिन यह पैसा कहां गया इसका कहीं कोई हिसाब नहीं है। गांधी ने कहा कि रसोई गैस, पेट्रोल, डीजल के दाम लगातार बढ़ रहे हैं और लोगों की जेब पर डाका डाला जा रहा है जबकि अंतरराष्ट्रीय बाजार में इन तीनों पेट्रोलियम पदार्थों के दाम कम हो रहे है।
उन्होंने कहा कि 2014 में गैस सिलेंडर 410 रुपए में आता था जो अब 116 प्रतिशत बढ़कर 885 का हो गया है। इसी तरह से 2014 में 71 प्रति लीटर था जो आज 41 प्रतिशत बढ़कर 101 रुपए हो गया। डीजल 2014 में 57 रुपए प्रति लीटर था जो आज 55 प्रतिशत बढ़कर 88 पर प्रति लीटर हो गया है।



और भी पढ़ें :