गोरक्षा के नाम पर कानून का उल्लंघन, क्या बोले मोदी...

नई दिल्ली| Last Updated: रविवार, 16 जुलाई 2017 (15:12 IST)
हमें फॉलो करें


नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गोरक्षा
के नाम पर कानून का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ राज्यों से

सख्त कार्रवाई करने को कहा है।


उन्होंने रविवार को सर्वदलीय बैठक में कहा कि गोरक्षा से जुड़े घटनाक्रम को राजनीतिक या साम्प्रदायिक रंग नहीं दिया जाना चाहिए, राष्ट्र को इससे कोई लाभ नहीं होगा।

बैठक के बाद संसदीय कार्यमंत्री अनंत कुमार ने संवाददाताओं को सर्वदलीय बैठक के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि प्रधानमंत्री ने सख्त लहजे में कहा कि देश में गोरक्षा की भावना है लेकिन इसके नाम पर हिंसा बर्दाश्त नहीं की जाएगी। इस संबंध में राज्य सरकारों को भी मशविरा दिया गया है कि गोरक्षा के नाम पर होने वाली हिंसा को लेकर सख्त कार्रवाई की जाए।
प्रधानमंत्री ने कहा कि गोरक्षा के नाम पर कई लोग निजी दुश्मनी के कारण कानून हाथ में लेकर भयानक अपराध कर रहे हैं। जो लोग अपनी दुश्मनी का बदला लेने के लिए ऐसी घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं, उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई जरूरी है।

उन्होंने कहा कि यह ठीक है कि गाय को मां कहा जाता है लेकिन इसके बहाने कानून हाथ में लेने का अधिकार किसी को नहीं है। देश के विभिन्न हिस्सों में गोरक्षा के नाम आए दिन हिंसा की खबरें आ रही हैं और लोगों की पीट -पीटकर हत्या की जा रही है। मोदी इससे पहले भी गोरक्षकों को हिंसा नहीं करने की सलाह दी थी।



और भी पढ़ें :